#Changemaker परिचर्चा में बोले वकील धनवान व बाहुबलियों पर लगे पूर्णता प्रतिबंध

#Changemaker परिचर्चा में बोले वकील धनवान व बाहुबलियों पर लगे पूर्णता प्रतिबंध

Rakesh gotam | Publish: May, 17 2018 10:11:41 PM (IST) Churu, Rajasthan, India

ज्यादातर का यही कहना है कि वर्तमान समय में देश की राजनीति में युवाओं एवं शिक्षित वर्ग की कमी खल रही है

सरदारशहर.

राजनीति को स्वच्छ बनाने के लिए बार संघ में अधिवक्ताओं की परिचर्चा आयोजित की गई। अभिभाषक संघ के सदस्यों ने भाग लेते हुए अपने सुझावों को साझा किया। ज्यादातर का यही कहना है कि वर्तमान समय में देश की राजनीति में युवाओं एवं शिक्षित वर्ग की कमी खल रही है। जब तक युवा व शिक्षित वर्ग आगे नहीं आएगा तब तक कुछ नहीं हो सकता।


वक्ताओं ने कहा कि हमारा राजनेता हमारी समस्याओं का हल करने वाला होना चाहिए। जो अपने वादों के साथ जनता के बीच में रहे। राजस्थान पत्रिका का यह अभियान बहुत अच्छा अभियान है। एडवोकेट सुरेन्द्रसिंह निर्बाण ने कहा कि यह मुहिम आने वाले समय में देश के विकास के साथ राजनीति के विकास में भी महत्वपूर्ण कड़ी साबित होगी। ऐसा प्रत्याशी चुनना चाहिए जो वास्तव में कार्य करते हुए हमारी समस्याओं का समाधान करे।

 


एडवोकेट महेन्द्र सींवर ने कहा कि राजनीति में अपराधिक व अनपढ़ लोग काफी देखने को मिलते हैं। बिना पढ़ा लिखा आदमी विधायक सांसद बन जाता है। हमें स्वच्छ छवि के लोगों को चुनना चाहिए। एडवोकेट पवन सोनी ने कहा कि वर्तमान समय में मीडिया अपनी टीआरपी बढ़ाने के लिए कार्यक्रम चलाते हैं लेकिन समाज और राजनीति को एक नई दिशा देने के लिए यह कार्यक्रम काफी सराहनीय है। एडवोकेट श्योकरण पोटयिा ने कहा किस प्रकार से राजनीति में बदलाव लाया जा सकता है। इसके लिए सभी को प्रयास करना चाहिए। राजनीति में जातिवाद, धर्मवाद एवं क्षेत्रवाद के लिए जगह नहीं होनी चाहिए। एडवोकेट रतनलाल स्वामी ने कहा कि लोकतंत्र को मजबूत बनाने के लिए वकील समुदाय की बड़ी भूमिका रही है। राजनीति का स्वच्छ रखने के लिए सभी को प्रयास करना चाहिए। एडवोकेट अजय भाटी ने कहा कि अपराधिक पृष्ठभूमि से जुड़े लोगों को पार्टियों को टिकट नहीं देनी चाहिए। इस अवसर पर एडवोकेट महावीरप्रसाद पारीक, बाबूसिंह राठौड़, देवेन्द्रसिंह राजवी, अमित सैनी, जसवन्त स्वामी, कालूराम सेन, प्रकाश नाई, चुन्नीलाल मेघवाल, कुन्दनसिंह राजपुरोहित, रामनिवास शर्मा, केशरदेव कस्वां, अमरचन्द सिद्ध ने अपने सुझाव दिए।

 

 


सादुलपुर.

राजनीति को स्वच्छ बनाने को लेकर न्यायालय परिसर में अधिवक्ताओं की परिचर्चा हुई। वरिष्ठ एडवोकेट मदनचन्द जांगिड़ ने पत्रिका को साधुवाद दिया तथा कहा कि जब तक राजनीति में ईमानदार लोगों का प्रवेश नहीं होगा तब तक भारत का लोकतंत्र अपराधियो, बाहुबलियों व उद्योगपतियों के हाथों की कठपुतली बना रहेगा।


एड्वोकेट मदनचन्द जांगिड़, प्रीतम शर्मा, वीरेंद्र पुनिया, राकेश पुनिया, कपिल, महेश अग्रवाल, पुष्पकान्त शर्मा, चरणसिंह, सुभाष, प्रेमबीका, अभियोजन अधिकारी सुरेन्द्र सांखला, अपर लोक अभियोजक बजरंग गिर आदि ने पत्रिका के अभियान को लोकतंत्र के लिए मजबूत नींव बताते हुए निष्पक्ष एवं ईमानदार व्यक्ति को चुनने पर बल दिया।अधिवक्ताओं ने जागरूकता अभियान चलाने का संकल्प लिया। वक्ताओं ने कहा कि युवा वर्ग समाज के प्रौढ़ वर्ग के मार्गदर्शन में आजादी के इतिहास से प्रेरणा लेकर भारत के लोकतंत्र जिसे भ्रष्टाचार ने दीमक की तरह खोखला कर दिया है। उस दीमक को पत्रिका के चेंजमेकर अभियान से ही साफ किया जा सकता है। एडवोकेट प्रीतम शर्मा ने कर्नाटक चुनाव पर चर्चा करते हुए कहा कि राज्यपाल ने केंद्र के मोहरे की तरह काम किया है। संविधान की धज्जिया उड़ाई हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned