टिड्डियों का हमला, बजाए ढोल- पीपे

निकटवर्ती गांव सिरसली में भी टिडडी दल का हमला कर दिया। जानकारी लगने के बाद किसान घरों से निकलकर खेतों की ओर पहुंचे और थाली, ढोल पीपे बजाकर उन्हें भगान का प्रयास किया।

By: Madhusudan Sharma

Updated: 22 Jun 2020, 09:28 AM IST

चूरू. निकटवर्ती गांव सिरसली में भी टिडडी दल का हमला कर दिया। जानकारी लगने के बाद किसान घरों से निकलकर खेतों की ओर पहुंचे और थाली, ढोल पीपे बजाकर उन्हें भगान का प्रयास किया। भाजपा नेता विजय शर्मा ने बताया कि टिडडी ने किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचाया है। इसी प्रकार लालासर, बीदासर के ग्रामीण क्षेत्रों में भी टिड्डी देखी गई।
फसलों पर कहर बरपा रहे टिड्डी दल
घांघू. क्षेत्र में किसानों की फसलों पर टिड्डी दल का कहर बरपा रहा है। किसान इससे चिंतित हैं। फसलों को टिड्डी दल से बचाने के लिए ताली, थाली, लोहे के पीपे और पटाखे चलाकर किसान टिड्डी दल को भगाने कोशिश में जुटे हैं। किसान भंवरलाल भाम्भू ने बताया की टिड्डियों वे घांघू की रोही में पेड़ों और फसलों को चट कर दिया। कुछ टिड्डी दल बणी के बास के खेतों की तरफ और कुछ टिड्डी दल खेतों में फसलों और पेड़-पौधों पर पड़ाव डाल दिया। दान्दू के किसान लखेन्द्र सिंह ने बताया कि उनका खेत बास जसवंतपुरा की तरफ है। यहां से बड़ी संख्या में टिड्डी दल निकला। इस दौरान बारिश होने से आधा टिड्डी दल वहीं बैठ गया। वहीं किसानों के पीपे, थाली और पटाखे चलाने के कारण अन्य टिड्डी दल पातुसर और गांगियासर की और निकल गया। किसान हीरालाल कपुरिया, नेमीचन्द जांगीड़, नरेंद्र प्रजापत, हनुमानप्रसाद शर्मा, विजेंद्र सिहाग, रमेश प्रजापत अन्य किसानों ने बताया कि टिड्डी दल के कारण किसानों में फसलों को लेेकर चिंता है। उन्होंने दवा छिड़काव की मांग की।
सरदारशहर. शहर क्षेत्र में रविवार को एक दर्जन से अधिक गांव में टिड्डी दल का हमला हुआ। जिसके कारण किसानों की फसलों को काफी नुकसान हुआ है टिड्डी दल भोजासर, रणसीसर, बिजरासर, साडासर, हरदेसर, शिमला आदि गांव में पेड़ पौधों को नुकसान पहुंचाया हैं। टिड्डी को उड़ाने के लिए किसानों ने बर्तन, ढोल व खेत में बाइक चलाकर उड़ाने का प्रयास किया। प्रशासन की ओर से टिड्डी उड़ाने का कोई व्यवस्था नहीं करने पर किसानों में रोष देखा गया। टिड्डी दल के कारण नरमा, मूंगफली फसलों को नुकसान हुआ है।
लाडनूं में टिड्डियों का हमला
चूरू. लाडनूं में टिड्डी दल ने एक बार फिर लाडनूं शहर पर धावा बोला और करीब दो घंटे तक शहर पर मंडराती रही। हालांकि टिड्डी दल ने यहां पड़ाव नहीं डाला जिससे कोई नुकसान नहीं हुआ। टिड्डी दल को देखकर एक बार तो किसानों की सांसें फूल गई। काफी समय बाद टिड्डी दल आगे की ओर निकल गया।

Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned