विधायकों को रास नहीं आ रहा रोडवेज का सफर

राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की बसों में निशुल्क यात्रा करना जिले के विधायकों को रास नहीं आ रहा है।लोकतंत्रमें जनता की ओर से बनाए इन जनप्रतिनिधि इस सुविधा का लाभ नहीं उठा रहे हैं।

By: Madhusudan Sharma

Published: 14 Sep 2021, 11:03 AM IST

चूरू. राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की बसों में निशुल्क यात्रा करना जिले के विधायकों को रास नहीं आ रहा है।लोकतंत्रमें जनता की ओर से बनाए इन जनप्रतिनिधि इस सुविधा का लाभ नहीं उठा रहे हैं। रोडवेज में विधायकों के लिए प्रथम दो सीटें होती हैं, लेकिन हिचकोले वाले सफर के बजाय विधायक आमतौर पर लग्जरी गाडिय़ों का उपयोग करते हैं। पूर्व व वर्तमान सांसद व विधायकों को रोडवेज बसों में प्रदेश व राष्ट्रीय राजधानी में निशुल्क यात्रा के लिए कूपन दिए जाते हैं। विधायक व सांसद के साथ उसके एक सहयोगी को भी निशुल्क यात्रा की सुविधा मिलती है। यात्रा के दौरान विधायक विधानसभा व सांसद संसद से जारी कूपन परिचालक को देता है। इसके एवज में मुख्य यात्रा टिकट के साथ सहयोगी का टिकट भी जारी होता है। रोडवेज के चूरू डिपो से 21 माह के भीतर जिले के एक भी विधायक ने रोडवेज में सफर नहीं किया है। रोडवेज सूत्रों की माने तो गत 21 माह में चूरू डिपो की बसों में सीकर जिले के धोद विधायक परसराम मोरदिया ने तीन बार रोडवेज बस में
यात्रा की है।
सत्ता पक्ष के विधायकों की रूचि नहीं
जानकारी के मुताबिक विपक्ष सहित सत्ता पक्ष के विधायकों को भी रोडवेज का सफर करने में रूचि नहीं है। जिले में सत्ता पक्ष के वर्तमान में चार विधायक हैं, लेकिन इसमें से एक ने भी रोडवेज में सफर करने में दिलचस्पी नहीं दिखाई है। निशुल्क यात्रा के पास पूर्व विधायकों को भी दिए जाते हैं, जिले में से एक भी पूर्व विधायक ने भी रोडवेज के हिचकोले का सफर पसंद नहीं किया है।
पहले नहीं बैठते थे आम आदमी
सूत्रों की माने तो रोडवेज बसों में पहले विधायक व सांसद के लिए आरक्षित सीटों पर किसी को यात्री को बैठने नहीं दिया जाता था।अगर कोईयात्री बैठ जाता था तो परिचालक उसे विधायक या सांसद के आने पर सीट खाली करने के लिए कह दिया जाता था।विधायक या सांसद के आने पर सीट खाली करा दी जाती थी।लेकिन अब यात्री बिना किसी डर के आराम से बैठकर यात्रा करते हैं।

Show More
Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned