पत्थरों-गोलियों से डरने वाले नहीं

ग्राम रामपुरा में गत दिनों हुए पथराव प्रकरण को लेकर ग्राम भैंसली में शुक्रवार सर्वसमाज की ओर से आयोजित आक्रोश रैली में ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी।

By: Madhusudan Sharma

Published: 17 Oct 2020, 09:25 AM IST

सादुलपुर. ग्राम रामपुरा में गत दिनों हुए पथराव प्रकरण को लेकर ग्राम भैंसली में शुक्रवार सर्वसमाज की ओर से आयोजित आक्रोश रैली में ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी। सभा में क्षेत्रीय विधायक डॉ.कृष्णा पूनिया विपक्ष के स्थानीय जनप्रतिनिधियों पर जमकर बरसीं। उन्होंने कहा कि गत दिनों उन पर पथराव किया गया, भाईचारे को खत्म करने की कोशिश की गई। वे आज अपने आप को सम्मानित महसूस कर रही हैं। इससे जनता में भी आक्रोश है। सभा को संबोधित करते हुए विधायक पूनिया ने कहा कि विकास की राजनीति को किसी हाल में खत्म नहीं होने दिया जाएगा। वह किसान की बेटी है पत्थरों एवं गोली से डरने वाली नहीं। भाईचारे को बांटने के प्रयास को किसी भी हाल में सफल नहीं होने दिया जाएगा। पूनिया ने किसी का नाम लिए बिना कहा कि जनता की ताकत से तीनों जनप्रतिनिधि एक हो गए तथा नगरपालिका चुनाव में चेयरमैन का चुनाव भी एक होकर ही लड़ा था। रामपुरा के सरपंच नरेश मेघवाल की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में विधायक पूनिया ने कहा कि रामपुरा घटनाक्रम में जब सरपंच जनता को सच्चाई बताने का प्रयास कर रहे थे, तो मौके पर बैठे पूर्व विधायक डर गए तथा एक षड्यंत्र के तहत उन पर पथराव किया गया। सभा से पूर्व करगिल शहीद राजकुमार पूनिया को श्रद्धासुमन अर्पित किए गए तथा ग्रामीणों ने विधायक का अभिनंदन किया। पूनिया ने कहा कि जातिगत आधार पर बांटने की मंशा उन लोगों की सफल नहीं होगी। उपस्थित भीड़ ने पत्थरबाजी करने वाले असामाजिक तत्वों को गिरफ्तार करने की मांग की है।
विधायक ने गिनाई उपलब्धि
विधायक कृष्णा पूनिया ने केंद्र सरकार के किसान अध्यादेश को काला कानून बताया। उन्होंने कहा कि सांसद ने काला कानून बनाने वालों को सहयोग किया है। जिस प्रकार पूंजीपतियों ने फ्री इंटरनेट देकर लोगों की आदत डाल दी थी, उसी प्रकार काला कानून किसानों के लिए खतरनाक साबित होगा। उन्होंने दो वर्ष के कार्यकाल की अपनी उपलब्धियों का भी बखान किया। सभा को ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष सतीश पूनिया, सरपंच नरेश बालानिया, सरपंच मानसिंह रेबारी, बाढ पूनिया संस्थान अध्यक्ष भल्लेराम पूनिया, नगरपालिका अध्यक्ष रजिया गहलोत, दामिनी स्वामी, सरपंच चरणसिंह काजला, निर्मला सिंघल, महंत सुरेन्द्रसिंह राठौड़, राघा बड़ी सरंपच रामनिवास मित्तड़, सीताराम प्रजापत, राजेन्द्र पूनिया, रामनिवास खीचड़, मनोज डूडी, संजीव पूनिया, नरेन्द्र पूनिया, गुलपुरा सरपंच जयसिंह पूनिया, बैरासर सरपंच महावीर पूनिया, ढाणी मौजी सरपंच सुभाष गोस्वामी, घणाऊ सरपंच सुलतानसिंह जांगिड़, वेदप्रकाश रेडू, पवन सैनी, सैनिक संघ के अध्यक्ष सुमेर पूनिया, एडवोकेट कुलदीप पूनिया, सविता धोलिया, सरपंच शीषराम पूनिया, रायसिंह पूनिया, लाल मोहम्मद भियाणी, नंदलाल गोस्वामी, शिशुपाल पूनिया, प्रेम पूनिया, विजय पूनिया सूरतपुरा, मनोज भारद्वाज, सुनील जांगिड़, प्रतापसिंह आदि ने संबोधित किया।

Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned