अब 31 जुलाई तक बंद रहेंगे मंदिरों के पट

वर्तमान में कोविड-19 की स्थिति के दृष्टिगत जनसुरक्षा की दृष्टि से आगामी 31 जुलाई तक जिले में समस्त धार्मिक स्थल बंद रहेंगे।

By: Madhusudan Sharma

Published: 17 Jun 2020, 07:59 AM IST

चूरू. वर्तमान में कोविड-19 की स्थिति के दृष्टिगत जनसुरक्षा की दृष्टि से आगामी 31 जुलाई तक जिले में समस्त धार्मिक स्थल बंद रहेंगे। जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट संदेश नायक की अध्यक्षता में मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में समस्त धार्मिक स्थलों के पदाधिकारियों ने यह निर्णय लिया। बैठक में समस्त धार्मिक स्थलों के पदाधिकारियों ने जिला कलक्टर को आश्वस्त किया कि वे आमजन की सुरक्षा के दृष्टिगत सदैव जिला प्रशासन के साथ हैं। इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर रामरतन सौंकरिया, हनुमान सेवा समिति के अध्यक्ष यशोदानंदन पुजारी, पूर्व जिला प्रमुख भंवरलाल पुजारी, मांगीलाल पुजारी, मांगीलाल पुजारी, धर्मवीर पुजारी, सत्यप्रकाश पुजारी, कमल किशोर पुजारी, गुरूगोरखनाथ मंदिर ददरेवा के अध्यक्ष रमेश कुमार राजपुरोहित, ईच्छापूर्ण बालाजी के प्रतिनिधि हंसराज पुजारी, साहवा गुरूद्वारा के सचिव गुरभेज सिंह, डॉ. एफ.एच.गौरी, दरगाह व मस्जिद कानूनी सलाहकार एडवोकेट हकीम अहमद खान सहित धार्मिक स्थलों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।
होम क्वारंटीन तोडऩे पर होगी कार्रवाई
लाडनूं. मंगलवार को 43 लोगों के कोरोना जांच सैंपल लेकर हाई सेंटर पर जांच के लिए भिजवाए गए। ब्लॉक सीएमओ डॉ मूलचंद चौधरी ने बताया कि अभी दिल्ली सहित देश के विभिन्न क्षेत्रों से प्रवासियों का आना जारी है और उन्हें होम क्वारंटीन किया जा रहा है।
लेकिन जो व्यक्ति होम क्वारंटी तोड़कर बाहर पाया तो उस पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि गांवों में मेडिकल वैन निर्बाध सेवाएं दे रही है। मंगलवार को बेरां की ढाणीए ओडिंट व नंदवाण में 8 2 लोगों ने मोबाईल वैन सेवा का लाभ लिया है। डेडिकेटेड कोरोना केयर सेण्टर में जांच, 32 जनों के सैम्पल जांच के लिए भेजे
सरदारशहर. गांधी विद्या मन्दिर परिसर में स्थित आयुर्वेद कॉलेज में संचालित बीकानेर सम्भाग के सबसे बड़े डेडिकेटेड कोरोना केयर सेन्टर में बाहरी क्षेत्रों से आने वाले संदिग्धों के स्वास्थ्य की जांच व काउंसलिंग की जाकर स्क्रीनिंग की गई।
रेडजॉन से आने वाले संदिग्धों को भर्ती किया जाकर मंगलवार को 32 जनों के सैम्पल मेडीकल कॉलेज चूरू भेजे। इन्हें रोजाना सर्वज्वरहर चूर्ण के क्वाथ का सेवन व प्राणायाम का अभ्यास कराया जा रहा है। महाविद्यालय के प्राचार्य डा.रविन्द्र कुमार व डा.कुलतारसिंह के नेतृत्व में डा.सीके दीक्षित की टीम ने काउंसलिंग की। इस अवसर पर डा.सत्यनारायण भाटी, वरिष्ठ कम्पाउण्डर अनुपचन्द मीणा, अर्जुनदास स्वामी, डा.बसन्त पारीक, एमएन-2 ओमप्रकाश सिंहमार, लैब टेक्नीशियन मनोज पारीक, पवन पारीक की टीम ने 32 जनों के सैम्पल लिए। सोमवार बाकी 62 जनों के सैम्पल जांच भेजे गये उनमें से 50 की रिपोर्ट नेगेटिव आने पर डिस्चार्ज किया गया।

Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned