एनएसयूआई ने कॉलेज का मुख्य द्वार बंद कर जताया आक्रोश

एनएसयूआई ने कॉलेज का मुख्य द्वार बंद कर जताया आक्रोश

Rakesh Kumar Goutam | Publish: Jul, 13 2018 11:10:58 PM (IST) Churu, Rajasthan, India

कॉलेज में विभिन्न समस्याओं को लेकर छात्रों ने बीदासर एवं सरदारशहर में प्रदर्शन

सरदारशहर.

 

कॉलेज में प्रवेश में सीटें बढ़ाने, रिक्त पदों को भरने सहित विभिन्न समस्याओं को लेकर छात्रों ने बीदासर एवं सरदारशहर में प्रदर्शन किया। एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने विभिन्न मागों को लेकर जिला अध्यक्ष किशन सींवर के नेतृत्व में राजकीय पीजी कॉलेज के समक्ष विरोध प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने कॉलेज का मुख्य द्वारा बंद कर नारेबाजी कर आक्रोश जताया तथा उच्च शिक्षा मंत्री के नाम ज्ञापन प्राचार्य को सौंपा। जिला अध्यक्ष सींवर ने ज्ञापन में वंचित विद्यार्थियों को प्रवेश दिलाने, सीटे बढ़ाने, रिक्त पदों को भरने, गणित विषय में एक सैक्शन बढ़ाने, पीजी की प्रवेश प्रक्रिया शीघ्र शुरू करने की मांग की। इस अवसर पर मैजर खान, गौरव कुरील, रविकान्त सैनी, सोहेल बलारिया, रामनिवास ढाका, मनोज सिहाग, तौफिक खान, क्यूब खान, अजय राजपुरोहित, गणेश जाखड़, श्रवण कुमार, रवि शर्मा, सुरेन्द्र सारण उपस्थित थे।

 

कॉलेज के सामने प्रदर्शन

 

बीदासर. राज्य सरकार द्वारा इस सत्र से शुरू किए गए राजकीय महाविद्यालय में व्याख्याताओं की कमी के कारण कक्षाएं शुरू नहीं सकी। इसके कारण शुक्रवार को विद्यार्थियों ने महाविद्यालय के सामने प्रदर्शन किया। छात्रों ने बताया कि महाविद्यालय में प्रवेश की प्रथम सूची की प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है। जिन विद्यार्थियों का महाविद्यालय में प्रवेश हुआ है उनकी कक्षाएं सात जुलाई से प्रारम्भ होनी थी लेकिन एक सप्ताह गुजर जाने के बावजूद भी कक्षाएं शुरू नहीं हुई। क्योंकि महाविद्यालय में कक्षाएं लेने के लिए एक भी व्याख्याता की नियुक्ति नहीं हुई है। जिन व्याख्याताओं की नियुक्ति हुई थी, उनका तबादला हो चुका है। छात्राओं ने यह भी बताया कि अन्य महाविद्यालयों में जहां कक्षाएं नियमित रूप से शुरू हो चुकी हैं, वहां इस महाविद्यालय की स्थिति बन्द हो चुके महाविद्यालय जैसी है। प्रदर्शन करने वालो में सुजानगढ़ महाविद्यालय छात्रसंघ के उपाध्यक्ष दीपक जांगिड़, दिनेश कुमार, प्रेम कुमार, जितेन्द्र कुमार, नवीन भार्गव, कन्हैयालाल सहित अनेक छात्र उपस्थित थे। महाविद्यालय कस्बे के खाली राजकीय उच्च प्राथमिक बालिका विद्यालय के भवन में चल रहा है। लेकिन यहां पर व्यवस्था भी ठीक नहीं है। इसकी सार-संभाल करने वाला कोई नहीं है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned