Churu Corona: पेंडिंग रिपोर्ट ने बढ़ाई धड़कन, पॉजिटिव बढ़े तो हो सकता है 3 दिन लॉकडाउन

Churu Corona: अगर अगले कुछ घंटों या दिनों में संक्रमण की रफ्तार तेज ही बनी रही, तो फिर तीन दिन का संपूर्ण लॉकडाउन हो सकता है।

By: Brijesh Singh

Published: 24 Aug 2020, 11:16 AM IST

चूरू. तीन दिन पहले एक कार एजेंसी के 24 कर्मचारियों में से सभी के पॉजिटिव आने और उसी दिन कुल मिला कर एक ही दिन में 67 नए मामलों के सामने आने के बाद जैसे स्वास्थ्य विभाग सकते में आ गया। नतीजा यह हुआ कि पिछले तीन दिनों में सघन सैंपलिंग की गई। कार एजेंसी के इर्द-गिर्द के एक किमी के दायरे में पडऩे वाले प्रतिष्ठानों और ऑफिसों के अलावा उन बैंकों के कर्मचारियों के भी सैंपल लिए गए, जिनके कुछ कार्मिक ऑटो फाइनेंस के सिलसिले में तीन-चार दिनों से कार एजेंसी में डेरा डाले हुए थे।

शनिवार को शाम को हालांकि, एक प्रमुख निजी बैंक के 42 में से पूरे 42 कर्मचारियों की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने से स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन ने राहत की सांस जरूर ली, लेकिन शंकाओं ने फिर भी पीछा नहीं छोड़ा। उधर, स्वास्थ्य विभाग के आला अफसरों का कहना है कि अगर अगले कुछ घंटों या दिनों में संक्रमण की रफ्तार तेज ही बनी रही, तो फिर तीन दिन के संपूर्ण लॉकडाउन की सिफारिश वे जिला प्रशासन से कर सकते हैं। गौरतलब है कि फिलहाल, रात को आठ बजे से लेकर सुबह सात बजे तक का कर्फ्यू पूरे चूरू शहर में लागू किया गया है।

बैंक के सभी कर्मचारी नेगेटिव कैसे?
खुद स्वास्थ्य विभाग की सैंपल लेने गई टीम का यह मानना था कि जिस तरह का वायरस लोड कार एजेंसी के सभी कार्मिकों में दिखा था और जितने घंटे बैंक कर्मचारियों ने कार एजेंसी कार्मिकों के साथ बिताए थे, उसके मुताबिक उन्हें आशंका थी कि बैंक के कुछ कार्मिक भी पॉजिटिव निकलेंगे। लिहाजा उन्होंने एहतियातन शनिवार दोपहर से ही बैंक बंद करा दिया था। अब सभी कार्मिकों के नेगेटिव आने के बाद स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारी भी दबे स्वर में मान रहे हैं कि हो सकता है कि वायरल लोड कम होने की वजह से अभी कर्मचारी नेगेटिव आए हों, लेकिन आगे भी उनके पॉजिटिव होने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता।

दो दिन बंद रहेगा बैंक, कोरोना संदिग्ध कार्मिक 14 दिन के लिए क्वारंटीन
इस बीच, मिली जानकारी के मुताबिक एक बड़े निजी बैंक के 42 कार्मिकों की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद भी एहतियातन स्वास्थ्य विभाग ने जिला प्रशासन के सहयोग से उस बैंक को दो कार्य दिवस (सोमवार 24 और मंगलवार 25 अगस्त) को बंद रखने का फैसला किया है। यह वही बैंक है, जिसके कम से कम तीन कार्मिक ऑटो फाइनेंस के सिलसिले में तीन-चार दिनों तक जयपुर रोड स्थित कार एजेंसी के कार्मिकों के संपर्क में थे। इसके अलावा उन तीन कार्मिकों को 14 दिन के लिए उनके घरों में क्वारंटीन कर दिया गया है, जो कार एजेंसी में ऑटो फाइनेंस के सिलसिले मे गए थे। बीसीएमओ डॉ. एहसान गौरी के मुताबिक बैंक के कर्मचारियों का अगले सप्ताह सात दिवस के अंदर एक बार फिर से सैंपल लिया जा सकता है, ताकि आश्वस्त हुआ जा सके कि इनमें से कोई संक्रमित नहीं हुआ है।

... तो बदलेगी स्वास्थ्य विभाग की रणनीति
जानकारी के मुताबिक, फिलहाल स्वास्थ्य विभाग करीब 2000 पेंडिंग रिपोर्ट का इंतजार कर रहा है, जिनमें सुजानगढ़, सरदारशहर, बीदासर, चूरू, राजगढ़ के बड़ी संख्या में ऐसे लोग शामिल हैं, जो पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में रहे हैं। इनमें खासतौर से इंतजार सुजानगढ़ के 13 बैंक कार्मिकों के संपर्क में आए लोगों के अलावा जयपुर में कार एजेंसी के संपर्क में आए लोगों और आसपास के इलाके और ऑफिसों के लोग शामिल हैं।

चूरू की ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक करें...

Brijesh Singh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned