Traveling Nine Hundred Kilometers -- निजी वाहनों से नौ सौ किमी दूरी तय कर रतनगढ़ पहुंचे लोग, पुलिस ने रोका

गुजरात के अहमदाबाद गए हुए करीब पांच दर्जन मजदूरों को वहां फैक्ट्री मालिकों ने बकाया दैनिक मजदूरी व वेतन देकर वहां से जबरन निकाल दिया। करीब ९०० किमी की यात्रा करने के बाद यहां की पुलिस ने एकसाथ इतने व्यक्तियों को वाहनों सहित रोका और पूछताछ की तो आंखों में आंसू निकल आने जैसी बात सामने आई। दो साल, एक साल, कोई छ:महीने से मजदूरी करने के लिए सरदारशहर तहसील के गांव देराजसर, धीरासर, दाउदसर आदि गांवों के मजदूर गुजरात के अहमदाबाद फैक्ट्रियों, कम्पनियों, कपड़ा मिलों आदि में अलग-अलग जगह मजदूरी करने गए हुए थ

Vijay

27 Mar 2020, 12:49 PM IST

रतनगढ़ (चूरू). मजदूरी करने के लिए गुजरात के अहमदाबाद गए हुए करीब पांच दर्जन मजदूरों को वहां फैक्ट्री मालिकों ने बकाया दैनिक मजदूरी व वेतन देकर वहां से जबरन निकाल दिया। करीब ९०० किमी की यात्रा करने के बाद यहां की पुलिस ने एकसाथ इतने व्यक्तियों को वाहनों सहित रोका और पूछताछ की तो आंखों में आंसू निकल आने जैसी बात सामने आई। दो साल, एक साल, कोई छ:महीने से मजदूरी करने के लिए सरदारशहर तहसील के गांव देराजसर, धीरासर, दाउदसर आदि गांवों के मजदूर गुजरात के अहमदाबाद फैक्ट्रियों, कम्पनियों, कपड़ा मिलों आदि में अलग-अलग जगह मजदूरी करने गए हुए थे। वहां से इनको २२ मार्च को मजदूरी का हिसाब पूरा करके यह कहकर निकाल दिया कि अब काम बन्द है तो यहां कौन रखेगा। अपने-अपने साधन से गांव जाओ, नहीं तो हमारे भले ही यहां रहो परन्तु अपनी जिम्मेदारी व अपने खर्चे पर। सरदारशहर के गांव देराजसर का ट्रक मालिक व वही चालक श्रवण कुमार जाट बीकानेर से मिट्टी भरकर १९ मार्च को रवाना हुआ और गुजरात के हिम्मतनगर २१ को पहुंच गया। वहां २२,२३ व २४ को खड़ा रहा। २५ मार्च को ये मजदूर वहां मिले और यह कहकर रोने लगे कि हमेंं यहां से निकाल दिया और अब गांव कैसे पहुंचेंगे। इनकी बात सुनकर और कोई उपाय नजर नहीं आया तो उक्त ट्रक चालक अपने गांव देराजसर के ३५ जनों को ट्रक में बैठाकर रवाना हो गया।
९०० किमी के रास्ते में जहां भी इन्हें रोका गया वहां बिस्कुट व चाय देकर रवाना करते रहे। आखिरकार इतनी यात्रा करने के बाद उन्हें रतनगढ़ पुलिस ने रोक लिया और सभी के पूरे पते लिखे, समाचार लिखे जाने तक डा.राकेश जैन, डिप्टीसीएमएचओ डा.देवकरण गुरावा व डा.मनस्वी के निर्देशन में स्क्रीनिंग जारी थी। इसके अलावा गुजरात की पिक अप व बोलेरो में भी शेष श्रमिक जा रहे थे, उन्हें भी इनके साथ ही रोक लिया। इनमें चालकों के अलावा ५७ श्रमिक, ५ छोटे बच्चे व ३ महिलाएं शामिल हैं।
सरदारशहर. ग्राम पंचायत, फोगां में गुरुवार को बाहर से आए हुए लोगों की चिकित्सा विभाग की ओर से जांच की गई तथा उन्हे घर में रहने की सलाह दी। इस अवसर पर टीम ने बाहर से आए लोगों के घरों के बाहर नोटिस चिपकाया। सरपंच सुमित्रा देवी पारीक ने बताया कि धारा 144 का पालन करना चाहिए।

Show More
Vijay Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned