scriptPost mortem stuck in absence of sweeper, dead body lying in mortuary f | स्वीपर के अभाव में अटका पोस्टमार्टम,  7 घंटे मोर्चरी में पड़ा रहा शव | Patrika News

स्वीपर के अभाव में अटका पोस्टमार्टम,  7 घंटे मोर्चरी में पड़ा रहा शव

चूरू (छापर). ग्राम पंचायत जैतासर में एक युवक ने खेत में पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंचे थानाधिकारी जसवीरकुमार व सीओ रामप्रताप विश्नोई सुजानगढ़ ने भी मौका मुआयना किया। मृतक मनोज मेघवाल (18) निवासी जैतासर के पिता पन्नाराम ने पुलिस को दी रिपोर्ट मे बताया कि मनोज पिछले काफी दिनों से मानसिक रूप से परेशान था। उसने खेजड़ी के पेड़ पर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। मौके पर पहुंची पुलिस ने मौका मुआयना करवाकर शव को छापर के राजकीय चिकित्सालय की मोर्चरी मे रखवाया।

चुरू

Updated: January 10, 2022 11:00:23 pm

युवक ने फांसी लगाकर की आत्महत्या
चूरू (छापर). ग्राम पंचायत जैतासर में एक युवक ने खेत में पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंचे थानाधिकारी जसवीरकुमार व सीओ रामप्रताप विश्नोई सुजानगढ़ ने भी मौका मुआयना किया। मृतक मनोज मेघवाल (18) निवासी जैतासर के पिता पन्नाराम ने पुलिस को दी रिपोर्ट मे बताया कि मनोज पिछले काफी दिनों से मानसिक रूप से परेशान था। उसने खेजड़ी के पेड़ पर फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। मौके पर पहुंची पुलिस ने मौका मुआयना करवाकर शव को छापर के राजकीय चिकित्सालय की मोर्चरी मे रखवाया। संदेहास्पद मौत होने के कारण मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया।
पोस्टमार्टम के लिए घण्टों इंतजार करते रहे परिजन
शव को ग्यारह बजे राजकीय चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाया। लेकिन ११ बजे से लेकर 5 बजे तक शव का पोस्टमार्टम नहीं हो सका। राजकीय चिकित्सालय में गठित बोर्ड के चिकित्सक स्वीपर की व्यवस्था नहीं होने का हवाला देकर हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे। पोस्टमार्टम के लिए घण्टों इंतजार व सूर्यास्त होने के चलते परिजन गुस्सा हो गए। ग्राम पंचायत जैतासर के सरपंच प्रतिनिधि पूसाराम ओजला ने बताया कि गांवों मे किसी की भी मौत हो जाने पर तब तक चूल्हे नहीं जलते जब तक मृतक का दाह संस्कार नही हो जाता। घण्टों तक पोस्टमार्टम नहीं होने पर परिजन परेशान होते रहे। स्वीपर के अभाव मे पोस्टमार्टम अटका रहा। ओजला ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की लचर व्यवस्था व संवेदनहीनता का जीता जागता नमूना देखने को मिला कि पोस्टमार्टम को लेकर परिजन घण्टों इंतजार करते रहे। ओजला ने सीएमएचओ व बीसीएमएचओ सुजानगढ़ से वार्ता की तब जाकर स्वास्थ्य विभाग आनन फानन में हरकत में आया। बीसीएमएचओ ओपी धाणियां खुद छापर राजकीय चिकित्सालय पहुंचे। शाम करीब छह बजे पोस्टमार्टम कर शव परिजनों के सुपुर्द किया गया। पोस्टमार्टम में प्रयुक्त सामग्री कांच के जार, निडल, पट्टी, गल्ब्स भी परिजनों को उपलब्ध करवाने होते है और तो और स्वीपर को रुप भी परिजनों को देने होते है। चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग के पास पोस्टमार्टम की प्रयुक्त सामग्री वहन के लिए बजट नहीं होता।
बीसीएमएचओ सुजानगढ़ ओपी धाणियां ने बताया कि उन्हें सूचना साढ़े चार बजे मिली।
स्वीपर के अभाव में अटका पोस्टमार्टम,  7 घंटे मोर्चरी में पड़ा रहा शव
स्वीपर के अभाव में अटका पोस्टमार्टम,  7 घंटे मोर्चरी में पड़ा रहा शव

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.