जिले के प्रगतिशील पशुपालक होंगे सम्मानित

पशुपालन विभाग की ओर से प्रगतिशील किसानों की तरह प्रगतिशील पशुपालकों को भी सम्मानित किया जाएगा। इसके लिए पंचायत समिति, जिला व राज्य स्तर पर कमेटियां गठित की जाएंगी।

By: Madhusudan Sharma

Published: 30 Jul 2021, 11:24 AM IST

सुजानगढ़. पशुपालन विभाग की ओर से प्रगतिशील किसानों की तरह प्रगतिशील पशुपालकों को भी सम्मानित किया जाएगा। इसके लिए पंचायत समिति, जिला व राज्य स्तर पर कमेटियां गठित की जाएंगी। जिसमें विभिन्न मापदंडो के आधार पर पशुपालकों का चयन किया जाएगा। नोडल अधिकारी डा. लालचन्द शर्मा ने बताया कि यहां पर 3 पशुपालकों ने आवेदन आए हैं। उन्होंने बताया कि योजना का उदे्श्य स्वस्थ प्रतिस्पर्धात्मक भावना उत्पन्न करना, पशुपालकों को समृद्ध व उन्नत नस्ल के पशु रखने के लिए प्रेरित करना, आधुनिक व नवीनतम तकनीकि से पशु देखभाल करने व उत्पादकता पर प्रभाव दर्शाना है।
ऐसे होगा पशुपालकों का चयन
जानकारी के मुताबिक चयन प्रक्रिया में निर्वाचित जनप्रतिनिधी अपने क्षेत्र के अग्रणी पशुपालकों का नाम प्रस्तावित कर सकते है। इसके लिए अपने पशुधन व उपलब्धियों का विवरण पास के पशु चिकित्सा संस्थान की अनुशंसा समेत प्रार्थना पत्र स बन्धित जिले के पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक को प्रस्तुत करना होगा। पशुपालक स्वयं भी अपने पशुधन के आधार पर आवेदन कर सकता है।
वरीयता क्रम में तैयार होगी सूची
योजना के तहत निर्धारित चयन समिति स्तर पर प्राप्त कुल आवेदनों में से प्रथम तीन स्थानों के लिए वरीयता क्रम निर्धारण करते हुए सूची तैयार करेगी। जिला स्तर पर भी प्रथम तीन स्थानों के लिए वरीयता क्रम निर्धारित किया जाएगा। पंचायत समिति स्तर पर प्रथम रहने वाले चयनित पशुपालकों में से जिला स्तर पर दो पशुपालकों का चयन होगा। जिला स्तर से राज्य स्तर पर दो पशुपालकों का चयन होगा। राज्य स्तर पर चयनित पशुपालकों को जिला स्तर पर पुरस्कार देय नहीं होगा। एवं जिला स्तर पर चयनित पशुपालक को पंचायत समिति स्तर पर पुरस्कार देय नहीं होगा।
ये करेंगे प्रगतिशील पशुपालकों का चयन
पंचायत समिति स्तर पर उपखण्ड अधिकारी, तहसीलदार या विकास अधिकारी की अध्यक्षता में विभाग के संयुक्त निदेशक या उपनिदेशक व वरिष्ठ पशु चिकित्सा अधिकारी-नोडल अधिकारी की कमेटी प्रगतिशील पशुपालकों का चयन करेगी। इसमें से जिला स्तर पर जिला कलक्टर की अध्यक्षता में गठित कमेटी में अतिरिक्त निदेशक, आत्मा परियोजना निदेशक, कृषि विज्ञान केन्द्र व संयुक्त निदेशक की कमेटी चयन करेगी। योजना के मुताबिक पंचायत समिति स्तर पर चयनित पशुपालक को दस हजार रुपए, जिला स्तर पर चयनित पशुपालक को 25 हजार व राज्य स्तर पर चयनित पशुपालक को 50 हजार रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा।
पशुपालकों के लिए अच्छी योजना
&पशु पालको को प्रोत्साहित करने के लिए अच्छी योजना है। सुजानगढ़ क्षेत्र में अब तक 3 आवेदन मिल चुके है। अंतिम तिथि 31 जुलाई तक एक दर्जन आवेदन मिल जाने की संभावना है।
डा. लालचन्द शर्मा, नोडल अधिकारी, पशु चिकित्सालय सुजानगढ

Show More
Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned