अवैध निर्माण की जानकारी छिपाई तो गिरेगी कार्रवाई की गाज

अवैध निर्माण की जानकारी छिपाई तो गिरेगी कार्रवाई की गाज

Rakesh gotam | Publish: Oct, 13 2018 01:44:17 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 01:44:18 PM (IST) Churu, Rajasthan, India

हर में होने वाले अवैध निर्माण व अतिक्रमण की जानकारी छिपाने वाले सफाई निरीक्षकों व जमादारों पर कार्रवाई की गाज गिरेगी।
इस संबंध में शुक्रवार को नगर परिषद आयुक्त बीएल सोनी ने आदेश जारी किए हैं। आदेशों के मुताबिक विधानसभा चुनाव के दौरान राजकीय भूमि, सार्वजनिक भवनों, सड़कों व पार्कों पर अवैध निर्माण व अतिक्रमण करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाईकी जाएगी।

सफाई निरीक्षक व जमादारों की होगी जिम्मेदारी

चूरू. शहर में होने वाले अवैध निर्माण व अतिक्रमण की जानकारी छिपाने वाले सफाई निरीक्षकों व जमादारों पर कार्रवाई की गाज गिरेगी। इस संबंध में शुक्रवार को नगर परिषद आयुक्त बीएल सोनी ने आदेश जारी किए हैं। आदेशों के मुताबिक विधानसभा चुनाव के दौरान राजकीय भूमि, सार्वजनिक भवनों, सड़कों व पार्कों पर अवैध निर्माण व अतिक्रमण करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाईकी जाएगी। प्रदेश में विधानसभा चुनाव की आदर्श आचार संहिता लागू हो चुकी है। ऐसे में विभिन्न विभागों, स्थानीय निकायों, नगर परिषद व पालिकाओं के अधिकांश अधिकारी व कर्मचारी चुनाव ड्यूटी में लगा दिए गए हंै। नगर परिषद के सफाई निरीक्षक व जमादारों को अपने क्षेत्र व वार्डों में चौकस रहकर अवैध निर्माण व अतिक्रमण की सूचना देनी होगी। ऐसा नहीं करने पर उनकी व्यक्तिगत जिम्मेदारी मानते हुए उनके खिलाफ सीसी नियमानुसार कार्यवाई की जाएगी।

 

हटाने होंगे होर्डिंग-पोस्टर-बैनर
चूरू. नगर परिषद प्रशासन ने क्षेत्र के राजनीतिक दलों के जिलाध्यक्षों व प्रभारियों को पत्र लिखकर परिषद क्षेत्र में लगे होर्डिंग्स, पोस्टर, बैनर,फ्लेक्स व झंडे आदि हटाने के निर्देश दिए हैं। आयुक्त बीएल सोनी ने पत्र में लिखा कि विधानसभा चुनाव 2018 को लेकर आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। अत: परिषद सीमा क्षेत्र में लगे होर्डिंग्स, पोस्टर, बैनर, फ्लेक्स व दीवार लेखन आदि हटाए जा रहे हैं। राजनीतिक दल अपनी उक्त प्रचार सामग्री स्वयं हटा लें। नई सामग्री लगाने से पहले सक्षम जिला निर्वाचन अधिकारी व उप जिला निर्वाचन अधिकारी से स्वीकृति प्राप्त करके ही लगाएं। नगर परिषद की ओर से हटवाए जाने पर संबंधित राजनीतिक दल से खर्चा वसूला जाएगा। वैसे देखा जाए तो चूरू शहर मं अतिक्रमण जगह-जगह दिखाई देते हैँ। शहर के किसी भी वार्ड के गली मोहल्लों या कालोनियों में चले जाएं। घरों के आगे लोगों ने अतिक्रमण कर रखे हैँ। कहीं दरवाजों के आगे बड़े रैम्प बना लिए हैं तो कहीं वाहन रखने के लिए रैलिंग या बाड़ लगाकर जगह रोक ली गई है। बहुत सी जगह घरों के आगे चौकियां बनाई हुई हैं। इससे रास्ते संकरे हो गए हैं। अतिक्रमण को लेकर प्रशासन हमेशा ही लापरवाही दिखाता रहा है। शिकायतों के बावजूद भी प्रशासन की नींद नहीं खुलती है। कभी-कभार खानापूर्ति कर देता हे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned