पूर्व विधायक मनोज न्यांगली पर फायरिंग का मुख्य आरोपी छह साल बाद गिरफ्तार

मामले में पूर्व सांसद रामसिंह व पूर्व विधायक कमला को भी बनाया गया था आरोपी

By: Madhusudan Sharma

Published: 19 Jan 2019, 10:52 AM IST

सादुलपुर. बसपा के पूर्व विधायक मनोज न्यांगली पर किए गए जानलेवा हमले एवं फायरिंग मामले में पुलिस ने षडय़ंत्रकारी मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। थानाधिकारी महेन्द्रदत्त शर्मा ने बताया कि सात साल से फरार वांछित मुख्य आरोपी पर जिला पुलिस अधीक्षक चूरू की ओर से दो हजार रुपए का ईनाम भी घोषित था। हरियाणा के तोशाम तहसील अन्तर्गत गांव धारवान बास निवासी आरोपी लीला उर्फ ठेकेदार उर्फ अशोक को हरियाणा से गिरफ्तार किया गया है। आरोपी को न्यायालय में पेश कर पुलिस रिमांड लेंगे। जिसके बाद मामले में फरार अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने की कार्रवाई की जाएगी। एसपी की ओर से गठित टीम में शामिल उपनिरीक्षक थानाधिकारी सांडवा अमित कुमार के नेतृत्व में आरोपी को गिरफ्तार किया गया।


सीआईडी जयपुर ने की जांच
२० नवंबर २०१२ को बसपा नेता मनोज न्यांगली, चाचा नरेश सिंह, मनोज मीणा, लीलूसिंह व गनमैन रतनलाल बसपा कार्यालय में शाम को छह-सात बजे बैठेे थे। तभी सात-आठ आदमी आए एवं उनमें से एक ने पिस्तौल निकालकर गोलियां चलानी शुरू कर दी। जिससे न्यांगली की बाईं आंख पर गोली लगी। दूसरी गोली पीठ में मारी, तभी नरेश सिंह एवं मनोज मीणा बचाने आए, तो आरोपियों ने गोलियां चलानी शुरू कर दी। जिसके कारण सभी घायल हो गए थे। थानाधिकारी ने बताया कि प्रकरण में तत्कालीन सांसद रामसिंह कस्वां, विधायक कमला कस्वां नामजद होने के कारण अभियोग का अनुसंधान सीआईडी जयपुर की ओर से किया गया था।


ये थे आरोपी
मामले में श्यामसुंदर उर्फ सुंदरिया निवासी गागड़वास, प्रदीप उर्फ काले निवासी माजरा दुब्बलधन लुहारू भिवानी हरियाणा, नवीन निवासी सिंघानी थाना लुहारू हरियाणा, अनिल निवासी चैनाणाबास थाना कनिना जिला महेन्द्रगढ़ हरियाणा, अंकित एवं हरदीप उर्फ मोनू निवासी बीगोवा थाना चरखीदादरी हरियाणा, सुरेशपाल निवासी लुदी झाबर, राजगढ़, लीला उर्फ ठेकेदार उर्फ अशोक निवासी धारवान बास तहसील तोशाम हरियाणा, मनीष एवं मंदीप निवासी सिंघानी थाना लुहारू को नामजद किया गया था।


अब तक ये गिरफ्तार, ये फरार
पुलिस मामले में आरोपी प्रदीप उर्फ काले, मनीष, श्यामसुंदर, हरदीप, सुरेशपाल, नवीन कुमार को गिरफ्तार कर चुकी है। शेष आरोपी अनिल, अंकित लीला उर्फ ठेकेदार उर्फ अशोक फरार चल रहे हैं। इनमें से शुक्रवार को लीला उर्फ ठेकेदार उर्फ अशोक को गिरफ्तार कर लिया गया है। सभी आरोपियों पर दो-दो हजार रुपए का इनाम घोषित किया हुआ है।

Madhusudan Sharma Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned