Lockdown-- Showed - Strictness--नहीं मान रहे लोग तो प्रशासन ने दिखाई सख्ती, दिनभर जिले में चली कार्रवाई

लाकडाउन को सफल बनाने के लिए शहर सहित जिले में प्रशासन की सख्ती नजर आई। एसडीएम, तहसीलदार सहित पुलिस के अधिकारी लाकडाउन को सफल बनाने में जुटे रहे। हालांकि सख्ती के बावजूद अभी भी कुछ लोग बेवजह सड़कों पर तफरी कर रहे हैं। ऐसे लोगों से निपटने के लिए लोगों को मैं समाज का दुश्मन हूं, का पोस्टर लगाकर उसकी फोटो को सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है।

Vijay

27 Mar 2020, 12:03 PM IST

लॉक डाउन के पांचवें दिन भी सन्नाटा
चूरू. लाकडाउन को सफल बनाने के लिए शहर सहित जिले में प्रशासन की सख्ती नजर आई। एसडीएम, तहसीलदार सहित पुलिस के अधिकारी लाकडाउन को सफल बनाने में जुटे रहे। हालांकि सख्ती के बावजूद अभी भी कुछ लोग बेवजह सड़कों पर तफरी कर रहे हैं। ऐसे लोगों से निपटने के लिए लोगों को मैं समाज का दुश्मन हूं, का पोस्टर लगाकर उसकी फोटो को सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है।
पुलिस ने ऐहतियात के तौर पर शहर की सीमाओं को पूरी तरह से सील कर दिया है।चालान व वाहनों को सीज करने की कार्रवाई की जा रही है।लोगों को जरूरत का सामान खरीदारी करने के लिए राहत दी जा रही है।सावधानी के लिए पुलिस की ओर से एक मीटर की दूरी बनाए रखने की सलाह दी गई।कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए गांवों में बैरियर लगा दिए गए हैं।ताकि कोई बाहर से कोई व्यक्ति गांव में नहीं आ सके।संक्रमण से बचाव के लिए लोग आगे आकर मदद करने में जुटे हुए हैं।सहायता के लिए लोग मुख्यमंत्री सहायता कोष में आर्थिक सहयोग प्रदान कर रहे हैं।
घांघू. क्षेत्र में गुरुवार को लॉकडाउन का पूर्णतया असर रहा और लोग अपने घरों में ही रहे। गांव में कुछ लोग जो पालन में व्यवधान कर रहे थे उनको पुलिस व स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने पाबन्द किया। दांदू में गुरुवार को सोडियम हाईपोक्लोराइड दवा का छिड़काव किया गया। घांघू सीएचसी के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ मोहम्मद अहसान गौरी ने बताया कि दवा उपलब्ध करवाकर स्वयंसेवको के सहयोग से छिड़काव करवाया गया। सामाजिक कार्यकर्ता लखेन्द्र सिंह राठौड़ के नेतृत्व में युवाओं ने दवा के छिड़काव में सहयोग दिया। राठौड़ ने बताया कि सतवीर झाझडिय़ा ने दवा के छिड़काव के लिए अपना ट्रैक्टर और मशीन नि:शुल्क उपलब्ध कराई।
तारानगर. सरकार की ओर से कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए 14 अप्रेल तक किए गए लॉक डाउन के तहत गुरूवार को भी सम्पूर्ण कस्बा बंद रहा। लॉक डाउन के चलते कस्बे में सभी दुकानें व प्रतिष्ठान बंद रहे जिस कारण पूरा कस्बा वीरान व सूनसान नजर आया। कोरोना वायरस के संक्रमण के डर से लोगों ने पूरे दिन भर घरों में रहकर लॉक डाउन के आदेशों का पालन किया।
लॉक डाउन के तहत प्रशासन की ओर से तय की गई समय सीमा के तहत लोगों ने मुख्य बाजार व अन्य स्थानों पर कुछ घंटे खुली किराणा व सब्जी की दुकानों से घरेलू राशन सामग्री, सब्जी, दूध आदि आवश्यक वस्तुएं खरीदी। दुकानदारों ने प्रशासन के आदेशों का पालन करते हुए लोगों को सामान उपलब्ध करवाया। दुकानदारों ने दुकानों पर भीड़ न हो इसके लिए दुकानों के आगे एक-डेढ मीटर की दूरी पर गोल घेरा बनाकर ग्राहकों के खड़े होने की सीमा तय की। ग्राहकों ने गोल घेरे में खड़े होकर एक-दूसरे से दूरी बनाते हुए बारी-बारी से सामान खरीदा। लॉक डाउन के नियमों को पालन करवाने के लिए पुलिस पूरे दिन भर कस्बे में गश्त लगाती रही और लोगों को घरों में रहने की चेतावनी देती रही।
प्रशासन ने समय सीमा की समाप्त
कोरोना वायरस महामारी के चलते देश में किए गए लॉक डाउन के दौरान लोगों को आवश्यक वस्तुओं की पूर्ति हेतु कस्बे में किराणा, फल, सब्जी, दूध, दवाई आदि की दुकानें प्रतिदिन दिनभर खुली रहेंगी। आवश्यक वस्तुओं की दुकानों पर स्थानीय प्रशासन की ओर से लगाई गई समय सीमा समाप्त कर दी गई है। तहसीलदार तेजपाल गोठवाल ने यह जानकारी दी। एसडीएम ने इन दुकानदारों को कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ नही करने, ग्राहकों के मध्य एक मीटर की दूरी रखने, स्वच्छता का पूर्ण ध्यान रखने, दुकानदार व ग्राहकों के लिए मास्क अनिवार्य रूप से लगाने, कालाबाजारी नही करने, तय रेट से अधिक मूल्य नही लेने एवं राज्य सरकार के आदेशों की पूर्ण रूप से पालना करने की भी अपील की है। एसडीएम ने कहा कि लोग दुकानों पर सामान खरीदने के लिए भीड़ न करें और आपस में दूरी बनाए रखकर कोरोना के संक्रमण से बचाव का विशेष ध्यान रखें।
बीदासर. वायरस के विरोध मे जनता व व्यापारीयों ने एकजुटता दिखाते हुए ५वें दिन भी जंग जारी रखी। गुरुवार को जरूरत का सामान खरीद कर लोग घरों में चले गए। एसडीएम श्योराम वर्मा, तहसीलदार अम्मीलाल यादव, अधिशाषी अधिकारी प्रकाश चन्द्र खिचड़ पालिका टीम के साथ व्यवस्था में तैनात रहे।नगर पालिका की टीम ने दवाई का छिड़काव किया। कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिये केन्द्र सरकार ने १४ अप्रेल तक देश मे लॉकडाउन के तहत गणगौरी चौक मे शुक्रवार को लगने वाला गणगौर का मेला नही भरेगा। एसडीएम श्योराम वर्माने बताया कि देश मे चल रही कोरोना वायरस से फै ल रही बीमारी का प्रभावी नियंत्रण व धारा १४४ की प्रभावी क्रियान्वति के लिये इस बार गणगौर का मेला नही भरेगा। वर्मा ने बताया कि संक्रमण की रोकथाम व बचाव हेतु हॉॅटल शादी विवाह सामुहिक कार्यक्रम गणगौर स्वामणी प्रसाद जागरण व रातीजोगा पर रोक रहेगी।

Show More
Vijay Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned