scriptThe winter season is not decreasing here, dense fog in the morning | यहां सर्दी का सितम नहीं हो रहा कम, सुबह-सुबह घना कोहरा | Patrika News

यहां सर्दी का सितम नहीं हो रहा कम, सुबह-सुबह घना कोहरा

चूरू. क्षेत्र में मंगलवार सुबह छाए घने कोहरे ने सर्दी बढा दी। सर्दी से बचाव के लिए लोग अलाव तापते नजर आए। तड़के तक कोहरा छाया रहा। वाहन चालकों को हैडलाईटें जलानी पडी।

चुरू

Published: January 26, 2022 10:10:34 pm

यहां पिछले एक सप्ताह से मौसम का मिजाज बदला-बदला है..
चूरू. क्षेत्र में मंगलवार सुबह छाए घने कोहरे ने सर्दी बढा दी। सर्दी से बचाव के लिए लोग अलाव तापते नजर आए। तड़के तक कोहरा छाया रहा। वाहन चालकों को हैडलाईटें जलानी पडी।
सांखू फोर्ट. क्षेत्र में पिछले एक सप्ताह से मौसम का मिजाज बदला हुआ है। सुबह करीब चार बजे बाद छाया कोहरा से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। चालकों को हैड लाइट जलाकर वाहन चलाना पड़ा। कोहरे के कारण 50 मीटर को दूरी पर भी कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। दोपहर बाद निकली धूप से कुछ निजात मिली। दिन में भी कभी सूर्य देव की आंख मिचौनी रही। कभी धूप तो कभी छांव रही। शाम को ठंडी हवा सर्दी बढ़ गई। लोग अलाव से तापते नजर आए।
सादुलपुर. क्षेेत्र में मौसम का मिज़ाज बदला रहा, दिनभर बादल-से छाए रहे। जिसके कारण सर्दी पहले की तरह बरकरार रही। सर्द हवा चलने से लोगों के कार्य प्रभावित हुए। सुबह से ही आसमान में हल्का कोहरा तथा दिनभर बादल छाए रहने से सर्दी का अहसास रहा। दोपहर को सूर्य देवता के दर्शन हुए, जिसके बाद लोगो को सर्दी से थोड़ी राहत मिली लोगो ने अलाव का भी सहारा लिया।बदले मौसम के मिजाज के कारण मौसमी बीमरियों का प्रकोप बढने लगा है। वहीं घर-घर में सर्दी, बुखार एवं वायरल से लोग पीड़ि़त हैं। चिकित्सकों का कहना है कि बदलते मौसम में किसी प्रकार की लापरवाही ना बरतें तथा विशेष रूप से बुजुर्गों एवं बच्चों का ख्याल रखें।
सुजानगढ़. लगातार एक पखवाड़े से पड़ रही कड़ाके की सर्दी से मामूली राहत मिली है। सूर्य देवता ने सुबह जल्द ही दर्शन दे दिए। आमजन ने धूप का सेवन किया।
सरदारशहर. घने कोहरे ने आम जनजीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया। क्षेत्र में कड़ाके की सर्दी का प्रकोप लगातार जारी है। सुबह से ही कोहरे ने हाइवे पर वाहनों की गति पर रोक लगा दी और वाहन लाइटों के सहारे रेंग रेंग कर चलते हुए नजर आए। वही बड़े वाहन सड़क किनारे खड़ा कर कोहरा छंटने का इंतजार करते हुए नजर आए। लोग अलाव का सहारा ले रहे हैं। कोहरे के साथ गलन और तेज हवाओं ने किसानों के चेहरों पर खुशियां ला दी है। किसानों का मानना है कि यह कोहरा और गलन फसलों के लिए अत्यधिक लाभदायक है। इस समय क्षेत्र में सरसों, ईसबगोल, गेंहू, चना, मेथी, जौ आदि फसलों की बुवाई किसान कर चुके हैं। कोहरा इन फसलों के लिए जीवनदान साबित हो रहा है।
यहां सर्दी का सितम नहीं हो रहा कम, सुबह-सुबह घना कोहरा
यहां सर्दी का सितम नहीं हो रहा कम, सुबह-सुबह घना कोहरा

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.