scriptWhy and said.. in the ambulance, the patients kept on suffering for 35 | क्यों और कहा.. एम्बुलेंस में 35 मिनट तक तड़पते रहे मरीज ,देखते रहे लोग | Patrika News

क्यों और कहा.. एम्बुलेंस में 35 मिनट तक तड़पते रहे मरीज ,देखते रहे लोग

चूरू (सादुलपुर). पिलानी रोड पर रेलवे फ ाटक बन्द होने के कारण सोमवार की शाम को सरकारी एम्बुलेंस में रोगी तडफ़ ते रहे। इस क्षेत्र की आम जनता के लिए यह फाटक एक गंभीर समस्या तो बना ही हुआ है। वहीं मरीजों और प्रसूताओं की जान पर भी बनी रहती है।एंबुलेंस के लिए रेलवे प्रशासन फ ाटक खोले जाने के आदेश जारी किए हुए हैं। इसके बावजूद एम्बुलेंस को किसी तरह की कोई सुविधा फाटक पर नहीं मिल पाती है।

चुरू

Updated: January 12, 2022 01:10:38 pm

चूरू (सादुलपुर). पिलानी रोड पर रेलवे फ ाटक बन्द होने के कारण सोमवार की शाम को सरकारी एम्बुलेंस में रोगी तडफ़ ते रहे। इस क्षेत्र की आम जनता के लिए यह फाटक एक गंभीर समस्या तो बना ही हुआ है। वहीं मरीजों और प्रसूताओं की जान पर भी बनी रहती है।एंबुलेंस के लिए रेलवे प्रशासन फ ाटक खोले जाने के आदेश जारी किए हुए हैं। इसके बावजूद एम्बुलेंस को किसी तरह की कोई सुविधा फाटक पर नहीं मिल पाती है। ऐसी ही घटना सोमवार की शाम को पुन: हुई, जब एक साथ दो 108 एंबुलेंस फ ाटक बंद होने के कारण खड़ी रही। इन दो एम्बुलेंस के द्वारा गंभीर रोगियों को चूरू रेफ र किया गया था। फ ाटक बंद होने के कारण वह रुकने के लिए मजबूर हो गई। मौके पर मौजूद बजरंग दल जिला संयोजक प्रवीण सरदारपुरा ने गेटमैन से आग्रह भी किया कि एंबुलेंस को निकल जाने के लिए नियमानुसार फ ाटक खोल दो। गेटमैन ने अपनी मजबूरी जाहिर करते हुए हाथ खड़े कर दिए कि वह फ ाटक नहीं खोल सकता। इसके बाद सरदारपुरा ने स्थानीय रेलवे अधिकारियों से संपर्क करना चाहा मगर संपर्क नहीं हो पाया अथवा किसी ने फ ोन नहीं उठाया। आखिरकार 35 मिनट तक खड़ी रहने के बाद एंबुलेंस चूरू के लिए रवाना हो सकी।
क्यों और कहा.. एम्बुलेंस में 35  मिनट तक तड़पते रहे मरीज ,देखते रहे लोग
क्यों और कहा.. एम्बुलेंस में 35 मिनट तक तड़पते रहे मरीज ,देखते रहे लोग
प्रशासन ने हटाए अतिक्रमण
सालासर. सिद्धपीठ धाम सालासर में बालाजी मंदिर के पास से प्रशासन ने मंगलवार को जेसीबी से पक्के अतिक्रमण को हटाए। इससे पहले 8 जनवरी को प्रशासन की चेतावनी पर ग्रामीणों ने अस्थाई अतिक्रमण स्वयं ही हटा लिए थे। कस्बे मे कई जगह स्थाई अतिक्रमण को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश था। जिसको लेकर दो दिन पहले ग्रामीणों ने प्रशासन का पुतला फूंका था। मंगलवार शाम को पोस्ट ऑफिस के पास से स्थाई अतिक्रमण हटाया। इस दौरान तहसीलदार गोविन्दराम बगडिय़ा, नायब तहसीलदार डा. सुरेन्द्र भास्कर, थानाधिकारी संदीप विश्नोई ने पुलिस जाप्ते मौजूद रहे। सरपंच, गीतादेवी ढाका ने बताया कि प्रशासन स्थाई अतिक्रमण हटाने की बजाय गरीब लोगों के ठेले व गुमटिया हटा रहा है। जबकि कस्बे से सभी पक्के अतिक्रमण हटाए जाने चाहिए। ताकि यहां आने वाले श्रद्धालुओं कोक परेशानी ना हो।
मौका मुआयना किया
छापर. पालिकाध्यक्ष श्रवण माली व कनिष्ठ अभियंता विकास मीणा ने वार्ड 01 की नाली व सड़क निर्माण को लेकर वार्ड का जायजा लिया। वार्ड पार्षद बाबूखां ने पालिकाध्यक्ष श्रवण माली को बताया कि वार्ड की चार गलियों की हालत बहुत खराब है। नाली व सड़क के अभाव में आमरास्ते पर पानी जमा हो जाता है आमजन को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। पालिकाध्यक्ष ने समस्या के निराकरण को लेकर आश्वस्त किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.