सेलम में कोरोना के 49 नए मामले

सेलम जिले में अचानक कोरोना रोगियों की संख्या बढऩे से हड़कम्प मचा हुआ है। रविवार को यहां एक ही दिन में 49 नए मामले सामने आए हैं। कोयम्बत्तूर, नीलगिरि, तिरुपुर व इरोड़ में राहत है

By: brajesh tiwari

Published: 01 Jun 2020, 04:12 PM IST

कोयम्बत्तूर. सेलम जिले में अचानक कोरोना रोगियों की संख्या बढऩे से हड़कम्प मचा हुआ है। रविवार को यहां एक ही दिन में 49 नए मामले सामने आए हैं। कोयम्बत्तूर, नीलगिरि, तिरुपुर व इरोड़ में राहत है। सूत्रों ने बताया कि सेलम में मिले ४९ संक्र मितों में से ३६ दूसरे राज्य व जिलों से आए लोग हैं। तेरह स्थानीय हैं। सेलम में शनिवार को भी ३७ रोगी मिले थे। अब यहां रोगियों की संख्या १७६ हो गई है। चिकित्सा विभाग की टीमों ने यहां बड़े पैमाने पर जांच शुरु की है। सेलम मुख्यमंत्री पलनीस्वामी का गृहजिला है।

तीन किन्नर सहित छह हवाई यात्री कोरोना पीडि़त
शहर के हवाई अड्डे पर दिल्ली और मुम्बई से आए यात्रियों में से छह संक्रमित पाए गए हैं। पीडि़तों में तीन किन्नर हैं। कोयम्बत्तूर जिले के चार यात्रियों को ईएसआई अस्पताल में भर्तीकरा दिया गया है। दो को उनके गृह जिलों को भिजवाया है। सूत्रों ने बताया कि छह किन्नर नई दिल्ली से शहर के हवाई अड्डे पर पहुंचे थे, इनका कोरोना टेस्ट किया गया और तीन पॉजिटिव मिले। इनमें से एक डिंडीगुल का है उसे वहां भेज दिया है। शेष तीन मुंबई से बेंगलुरु होते हुए शहर पहुंचे। इनमें दो शख्स व एक महिला संक्रमित मिली है। एक पीडि़त सेलम का है बाकी दो कोयम्बत्तूर जिले के हैं। दोनों को ईएसआई अस्पताल में भर्ती कराए हैं।

अस्पताल में पहले से ही तीन मरीजों का उपचार चल रहा है। दो चेन्नई से आए शख्स हैं। तीसरी नीलगिरि की एक गर्भवती महिला है। शहर के एक निजी अस्पताल में भी एक कोरोना पीडि़त महिला का उपचार चल रहा है। यह चेन्नई से लौटी थी। प्रशासन दूसरे राज्यों से विमान और सड़क मार्ग से आ रहे लोगों की स्वास्थ्य जांच कर रहा है। एक अधिकारी ने बताया कि करीब तीन हजार लोग अब तक सड़क और हवाई मार्ग से जिले में आए हैं।

brajesh tiwari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned