कंटेनर में जा रहे 75 प्रवासी श्रमिक व चालक गिरफ्तार

प्रवासी मजदूर आज भी जैसे -तैसे अपने गृह राज्यों को लौट रहे हैं। इसके लिए वे जान दांव पर लगा रहा है तो कहीं कई गुणा किराया देने को भी तैयार है। शुक्रवार को तिरुपुर में पुलिस ने एक कंटनेर को खुलवा कर देखा तो उसमें उत्तर भारत के ७५ प्रवासी मजदूर मिले।

By: brajesh tiwari

Updated: 16 May 2020, 02:22 PM IST

कोयम्बत्तूर. प्रवासी मजदूर आज भी जैसे -तैसे अपने गृह राज्यों को लौट रहे हैं। इसके लिए वे जान दांव पर लगा रहा है तो कहीं कई गुणा किराया देने को भी तैयार है। शुक्रवार को तिरुपुर में पुलिस ने एक कंटनेर को खुलवा कर देखा तो उसमें उत्तर भारत के ७५ प्रवासी मजदूर मिले। पुलिस ने कंटेनर चालक व खलासी को गिरफ्तार कर कंटेनर को जब्त कर लिया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित पल्लाकुंदमपालयम चौकी पर तैनात पुलिस इंस्पेक्टर थावमणि और टीम वाहनों की जांच कर रही थी।इसी दौरान कारों के ले जा रहे एक कंटेनर की रुकवाया गया। उसे खुलवा कर देखा तो पुलिसकर्मी भौचक्के रह गए। कंटेनर में ७५ मजदूर थे। इन सब को उतारा गया। पूछताछ में पता लगा कि बिहार और उत्तर प्रदेश के मजदूर कोनियम, पडियूर, उथुकुली और मुथलीपलायम में काम करते थे। लॉकडाउन की वजह से काम ठप हो गया था। वे अब तक जैसे -तैसे समय बिता रहे थे। उन्हें उम्मीद थी कि जल्द ही घरवापसी की व्यवस्था होगी।लेकिन देरी होते देख उन्होंने कंटेनर वाले से बात की । वह ले जाने को तैयार हो गया पर पुलिस की नजर से बच नहीं पाया।चालक मोहम्मद वारिस व खलासी मोसाद को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने मजदूरों से पूछताछ के बाद उन कम्पनियों के संचालकों से बातचीत की और सभी को वहीं भेज दिया। साथ ही कम्पनी संचालकों को उनके भोजन व आवास की व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

brajesh tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned