सात चरणों के लोस चुनाव में कुछ भी संभव : येचुरी

प्रधानमंत्री होने के बारे में निर्णय चुनाव परिणाम आने के बाद ही

कोयम्बत्तूर. माकपा के राष्ट्रीय महासचिव सीताराम येचुरी ने बुधवार को कहा कि इस बार का लोकसभा चुनाव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जनता के बीच है और इसमें जनता की सुनामी दिखेगी।
येचुरी ने कहा कि चुनाव के बाद गठबंधन और राहुल गांधीर अथवा किसी अन्य के प्रधानमंत्री होने के बारे में निर्णय चुनाव परिणाम आने के बाद ही होंगे। उन्होंने कहा कि इसके बारे में कयास लगाने की जरुरत नहीं है, जब सुनामी आती है तो बताकर नहीं आती। यह पूछे जाने पर कि क्या वे चुनाव परिणाम में सुनामी की उम्मीद कर रहे हैं, येचुरी ने कहा कि उन्हें जनता की सुनामी की उम्मीद है। बार-बार यह पूछे जाने पर कि क्या क्षेत्रीय दलों सहयोग से बनने वाली सरकार में माकपा शामिल होगी, येचुरी ने कहा कि अभी इंतजार करना बेहतर है, सात चरणों के चुनाव में कुछ भी संभव है। उन्होंने २००४ और १९९६ के चुनाव परिणाम का भी जिक्र किया जब माकपा ने क्रमश: कांग्रेसी और गैर कांग्रेसी सरकार का समर्थन किया था। धारा ३७० पर जम्मू-कश्मीर के नेताओं के बयान को लेकर पूछे गए सवाल पर येचुरी ने कहा कि इस मुद्दे को उठाए जाने की कोई आवश्यकता नहीं थी जिससे उमर अब्दुला और महबूबा मुफ्ती को टिप्पणी करने का मौका मिल गया। उन्होंने कहा कि भाजपा पिछले लोकसभा चुनाव के समय घोषणा पत्र में किए गए वादों को पूरा करने में विफल रही।

Congress modi Narendra Modi
Show More
कुमार जीवेन्द्र झा Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned