गौर ने ली श्रमिक की जान

गौर ने ली श्रमिक की जान

Kumar Jeevendra | Updated: 26 Jul 2019, 12:38:50 PM (IST) Coimbatore, Coimbatore, Tamil Nadu, India

कोटगिरि में गुरुवार को एक गौर चाय बागान में काम कर रही महिला श्रमिक पर हमला कर दिया। उसे गंभीर अवस्था में अस्पताल ले जाया गया पर रास्ते में ही उसका दम टूट गया।

कोयम्बत्तूर. कोटगिरि में गुरुवार को एक गौर चाय बागान में काम कर रही महिला श्रमिक पर हमला कर दिया। उसे गंभीर अवस्था में अस्पताल ले जाया गया पर रास्ते में ही उसका दम टूट गया।
नीलगिरि के कन्नूर, कोटगिरि इलाके में आए दिन जंगली जानवरों के आबादी क्षेत्र में घुसने से भय का माहौल है। सूत्रों ने बताया कि कोटगिरि के पास मिलिदाने की रहने वाली बेबी (35) बागान में चाय की पत्ती तोड़ रही थी। इसी दौरान झाडिय़ों से निकल कर एक गौर उसके सामने आ गया। बेबी ने भागने की कोशिश की पर गौर ने उस पर हमला कर दिया। उसकी चीख पुकार सुन कर बागान में काम कर रहे अन्य मजदूर मौके पर पहुंचे व शोर मचा कर गौर को भगाया।
गौर के सीगों से उसके हाथ व पेट में गहरे जख्म हो गए थे। तत्काल उसे सरकारी अस्पताल ले जाया गया पर वहां पहुंचने से पहले ही उसका दम टूट गया।मामले की जानकारी मिलने पर पुलिस व वन विभाग के कर्मचारी भी मौके पर पहुंचे। मुआवजे के लिए पंचनामा तैयार कर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। गौर के हमले की खबर सुन कर बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गए व वन विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाया। लोगों का कहना था कि विभाग जंगली जानवरों को आबादी से दूर रखने में नाकाम साबित हुआ है।
कॉलोनी में शावक के साथ नजर आई भालू
बुधवार को कुन्नूर में लोग उस समय डर गए जब एक भालू को अपने शावक के साथ आवासीय कॉलोनी में घूमते हुए देखा। थोड़ी देर बाद भालू शावक को लेकर अलककारई चाय बागान की ओर चली गई।
मौके पर मौजूद लोगों ने मोबाइल से भालू की तस्वीरें क्लिक की। लेकिन भरी दोपहर में जिस तरह बेखटके शावक के साथ घूम रही भालू को देख लोग सहम गए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned