नगर निगम ने बढ़ाया संपत्ति कर

नगर निगम ने बढ़ाया संपत्ति कर

Kumar Jeevendra | Updated: 14 Jul 2019, 01:40:27 PM (IST) Coimbatore, Coimbatore, Tamil Nadu, India

नगर निगम ने संपत्ति कर में 50 से 100 फीसदी की वृद्धि कर दी है। राज्य सरकार ने पिछले साल मध्य जुलाई में आवासीय संपत्तियों के कर में50 और औद्योगिक व वाणिज्यिक संपत्तियों के कर में 100 फीसदी वृद्धि की घोषणा की थी।

कोयम्बत्तूर. नगर निगम ने संपत्ति कर में 50 से 100 फीसदी की वृद्धि कर दी है। राज्य सरकार ने पिछले साल मध्य जुलाई में आवासीय संपत्तियों के कर में50 और औद्योगिक व वाणिज्यिक संपत्तियों के कर में 100 फीसदी वृद्धि की घोषणा की थी। हालांकि, निगम की ओर से इसके बारे में कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है लेकिन निगम की वेबसाइट पर करदाताओं को लॉगिन करने पर बढ़े हुए कर राशि की मांग दिख रही है।नगर निगम के अधिकारियों के मुताबिक शहरी निकाय प्रशासन और जलापूर्ति विभाग ने १९ जुलाई को जारी आदेश में संशोधित संपत्ति कर 1 अप्रेल 2018 से लागू होने की बात कही गई है। अधिकारियों कहा कि जिन संपत्ति मालिकों ने कर का भुगतान कर दिया है, उन्हें अंतर राशि का भुगतान करना पड़ेगा।
निगम के मुताबकि शहर में ४.६० लाख आवासीय संपत्तियां हैं जबकि ३८ हजार ५०० वाणिज्यिक और ८९०० औद्योगिक संपत्तियां हैं। इनसे निगम को संपत्ति कर के तौर पर निगम को १५७ करोड़ रुपए को आमदनी मिलती है। अधिकारियों का कहना है कि कर में वृद्धि के बाद निगम को 120 करोड़ रुपए की अतिरिक्त आमदनी होने की उम्मीद है। साथ ही एरियर के तौर पर भी 30 करोड़ रुपए मिलने की उम्मीद है।अधिकारियों का कहना है कि कर में वृद्धि से इस साल होने वाली आमदनी से निगम की वित्तीय स्थिति सुधरेगी।
निगम पिछले तीन साल से वित्तीय संकट की स्थिति का सामना कर रहा है। निगम को विकास कार्य कराने के लिए जनरल फंड के इस्तेमाल के अलावा केंद्र और राज्य सरकार से मिलने वाले अनुदान पर निर्भर रहना पड़ रहा है।
अधिकारियों का कहना है कि राज्य सरकार के स्थानीय निकाय चुनाव नहीं कराने के कारण केंद्र सरकार के अनुदान देना बंद कर देने के कारण निगम की वित्तीय ज्यादा खराब हो गई थी। अधिकारियों का कहना है कि संपत्ति कर में वृद्धि के बाद अब उसकी वसूली एक बड़ी चुनौती होगी। इसके अलावा निगम राजस्व बढ़ाने के लिए पानी शुल्क बढ़ाने के साथ ही अपशिष्ट कर वसूली भी शुरू

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned