कोयम्बत्तूर आतंककारी अलर्ट : दो संदिग्ध हिरासत में

कोयम्बत्तूर आतंककारी अलर्ट : दो संदिग्ध हिरासत में
कोयम्बत्तूर आतंककारी अलर्ट : दो संदिग्ध हिरासत में

Kumar Jeevendra | Updated: 24 Aug 2019, 05:17:06 PM (IST) Coimbatore, Coimbatore, Tamil Nadu, India

Coimbatore Terror Alert : एक संदिग्ध केरल के त्रिशूर जिले का है जबकि दूसरा कोयम्बत्तूर का बताया जा रहा है।

कोयम्बत्तूर. श्रीलंका Srilanka से समुद्री रास्ते से तमिलनाडु ( Tamil Nadu ) में लश्कर-ए-तोयबा lashkar-e-taiba के छह आतंककारियों Terrorist के प्रवेश करने और कोयम्बत्तूर Coimbatore में छिपे होने को लेकर जारी अलर्ट के बाद शनिवार को पुलिस ने दो संदिग्धों को हिरासत में लिया है। पुलिस के मुताबिक एक संदिग्ध केरल Kerala के त्रिशूर जिले का है। उसके साथ एक महिला भी को भी हिरासत में लिया गया है। फिलहाल दोनों से गुप्त स्थान पर पूछताछ की जा रही है। मामले के संवेदनशील होने के कारण पुलिस ने फिलहाल कोई ज्यादा जानकारी देने से मना कर दिया है। उधर, दूसरे दिन भी कोयम्बत्तूर में कड़ी सुरक्षा रही। कमांडो जवनों ने मेट्टूपालयम में फ्लैग मार्च किया। साथ ही प्रमुख स्थलों पर भी कमांडो ने सुरक्षा इंतजामों का जायजा लिया। बम निरोधक और श्वान दस्ते ने भीड़भाड़ वाले इलाकों जांच की।
गौरतलब है कि लश्कर-ए-तोयबा के छह संदिग्ध आतंककारियों के तमिलनाडु में घुसने को लेकर खुफिया चेतावनी के बाद कोयम्बत्तूर सहित पूरे राज्य में गुरुवार देर रात हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया था। पुलिस ने पूरे राज्य में चौकसी बढ़ा दी। पूरे राज्य में वाहनों की सघन जांच की जा रही है।
सूत्रों के मुताबिक इंटेलीजेंस ब्यूरो की रिपोर्ट के बाद गुरुवार रात करीब 11.30 बजे राज्य पुलिस मुख्यालय ने पुलिस आयुक्तों और पुलिस अधीक्षकों को अलर्ट जारी किया था। कोयम्बत्तूर के अलावा तटवर्ती जिलों को भी विशेष अलर्ट जारी किया गया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक कोयम्बत्तूर को लेकर विशेष चेतावनी दी गई है। इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) ने श्रीलंका के रास्ते तमिलनाडु में 6 आतंकरियों के घुसपैठ और उनके कोयम्बत्तूर में वेश बदल कर होने की चेतावनी दी ही है। सूत्रों के मुताबिक ये आतंकी लश्कर-ए-तोयबा से जुड़े हैं। इनमें से एक संदिगध पाकिस्तानी का नाम इलियास अनवर बताया गया है जबकि बाकी पांच श्रीलंकाई हैं। इसमें चेतावनी दी गई है कि ये आतंकी वेश बदल कर कोयम्बत्तूर में छिपे हैं। अपनी पहचान छिपाने के लिए ये माथे पर तिलक या भभूत लगाए हो सकते हैं। ये आतंककारी महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों, धार्मिक स्थलों या भीड़भाड़ वाली जगहों को निशाना बना सकते हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned