कोरोना की दहशत से व्यापार ठप, खुदरा और थोक बाजारों में मंदी

कोरोना की दहशत से व्यापार ठप, खुदरा और थोक बाजारों में मंदी

By: Rahul sharma

Updated: 25 Mar 2020, 12:43 PM IST

कोयम्बत्तूर. कोरोना वायरस का असर अब व्यापार जगत पर प्रत्यक्ष रूप से नजर आने लगा है। कोयम्बत्तूर व आसपास के प्रमुख शहरो में व्यापारियों के चेहरे लटके हुए हैं। परिवहन साधन बंद होने के कारण लोगों की आवाजाही नहीं होने के कारण प्रतिष्ठान बंद हैं। रोजमर्रा की वस्तुओं, दूध, सब्जी आदि कुछ जगहों पर उपलब्ध है। लोग जसतस घरों में ही कैद हैं। सीमावर्ती राज्यों केरल व कर्नाटक को सील किए जाने के कारण कोयम्बत्तूर का स्थानीय बाजार खासा प्रभावित हुआ है। यहां खुदा व थोक दोनों की तरह का व्यापार ठप हो गया है।अनुमान के अनुसार ५० से ७० प्रतिशत व्यापार सभी क्षेत्रों में ठप हैं।
स्थानीय व्यापारी रमेश कुमार, राजेश बोहरा का कहना है कि शहर से सटे राज्यों केरल, कर्नाटक आदि से सैंकड़ों खुदरा व्यापारी इलैक्ट्रिक, प्रोविजन, रेडीमेड, फुटवियर, इलैक्ट्रॉनिक आदि का व्यापार ठप है। इससे दोनों ही प्रकार की बिक्री ठप हो गई है।
सर्राफा व अन्य कई व्यापारी दीवाली से ही ठप थे ऐसे में कोरोना के बंद के कारण इन पर कोढ़ में खाज का कार्य साबित हुआ है।
प्रोविजन व खाने पीने की वस्तुओं भी हो सकती हैं महंगी
थोक व्यापारियों को यदि निरंतर माल सप्लाई में बाधा आती है तो खुदरा खरीद महंगी हो सकती है। इसके लिए प्रशासन को पर्याप्त स्टॉक की व्यवस्था करनी होगी।
ऑटोमोबाइल क्षेत्र भी ठप
पिछले तीन चार माह से ऑटो मोबाइल कारोबार में भारी गिरावट आई है। यहां तक सेकंडरी मार्केट में भी बिक्री घटी है। यहां पुराने वाहनों की बिक्री भी निरंतर गिर रही है। ग्राहकों की आवाजाही नहीं होने से बाजारों में कमी आई है। अकेले आरएसपुरम में १५ से अधिक सेकंडरी मार्केट के तहत पुरानी कारों के गैराज थे जहां घट कर अब इक्का दुक्का गैराज ही रह गए हैं।
बुधवार से १४४ लागू होने के बाद और कठिन हो सकते हैं हालात
शहर में सरकार के निर्देशों के बाद मंगलवार शाम छह बजे से धारा १४४ लगाने के बाद शहर में आवाजाही लगभग ठप हो जाएगी। खाने पीने की वस्तुएं, दवाईयां, प्रोविजन व दूध व सब्जी , पैट्रोल पंप आदि खोले जा सकेंगे। इसके लिए प्रशासन द्वारा विशेष इंतजाम करे जाएंगे।

Rahul sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned