डेंगू का खतरा

डेंगू का खतरा
डेंगू का खतरा

Dilip Sharma | Updated: 20 Sep 2019, 12:58:34 PM (IST) Coimbatore, Coimbatore, Tamil Nadu, India

शहर के में डेंगू के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। नगर निगम ने शहर के चार वार्डों को डेंगू हॉट स्पॉट के तौर पर चिह्नित किया है जबकि करीब आधे दर्जन अन्य वार्डों की भी विशेष निगरानी की जा रही है। निगम सूत्रों के मुताबिक जिन चार वार्डों-गणपति, करुम्बुकडई, पीलमेडु और रत्नपुरी को डेंगू हॉट स्पॉट के तौर पर चिह्नित किया गया है उनमें से हर वार्ड में चार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं।

कोयम्बत्तूर. शहर के में डेंगू के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। नगर निगम ने शहर के चार वार्डों को डेंगू हॉट स्पॉट के तौर पर चिह्नित किया है जबकि करीब आधे दर्जन अन्य वार्डों की भी विशेष निगरानी की जा रही है। निगम सूत्रों के मुताबिक जिन चार वार्डों-गणपति, करुम्बुकडई, पीलमेडु और रत्नपुरी को डेंगू हॉट स्पॉट के तौर पर चिह्नित किया गया है उनमें से हर वार्ड में चार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। निगम के अधिकारियों के मुताबिक अगस्त महीने में शहर में डेंगू के 25 मामले सामने आए थे। इन चार वार्डों के अलावा सीनानायकनपालयम, केम्बट्टी कॉलोनी, सेल्वपुरम, ओंडिपुद्दूर सहित अन्य डेंगू संभावित इलाकों में भी निगम विशेष निगरानी रख रहा है।
निगम ने इन इलाकों में मच्छरों के उन्मूलन कार्य के लिए विशेष कर्मचारियों की तैनाती की है। ये कर्मचारी घर-घर जाकर मच्छरों के ब्रीडिंग की जांच करेंगे और इसके रोकथाम और लार्वा को नष्ट करने की कार्रवाई करेंगे। ये कर्मचारी पंक्चर बनाने वाले दुकानों , खाली पड़े भूखंड, शिक्षण संस्थानों, ओवरहेड टैंकों, निर्माणाधीन भवनों और वैसे स्थानों का भी निरीक्षण करेंगे जहां पानी का जमाव होता है। मच्छर जनित बीमारी डेंगू पर नियंत्रण के लिए एहतियाताी उपाय उठाने के साथ ही निगम ने कर्मचारियों को डेंगू से पीडि़त पाए गए लोगों के ५०० मीटर के दायरे में आने वाले घरों की विशेष तौर पर जांच करने के निर्देश दिए हैं। निगम के सूत्रों के मुताबिक डेंगू हॉट स्पॉट के तौर पर चिह्नित इलाकों में विशेष चिकित्सकीय टीम भी तैनात की गई है। अधिकारियों का कहना है कि अगस्त के 25 मामलों के बाद सितम्बर में डेंगू के मामलों की स्थिति चिंताजनक है। निगम ने घर-घर जाकर मच्छरों की उत्पति व रोकथाम गतिविधि के लिए ५०० कर्मचारियों को तैनात किया है। इस कार्य के लिए सभी 100 वार्डों में 5 -5 कर्मचारी तैनात किए गए हैं। मच्छर उन्मूलन के कार्य के लिए 250-300 और कर्मचारियों को तैनात करेगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned