स्वास्थ्य विभाग हुआ सतर्क

स्वास्थ्य विभाग हुआ सतर्क
स्वास्थ्य विभाग हुआ सतर्क

Dilip Sharma | Updated: 10 Oct 2019, 01:52:25 PM (IST) Coimbatore, Coimbatore, Tamil Nadu, India

स्वास्थ्य विभाग हुआ सतर्क

डेंगू रोग ने शहर सहित अंचल में पैर पसारने शुरू कर दिए हैं। तीन दिन पहले कोयम्बत्तूर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में डेंगू के 13 रोगी भर्ती थे। मंगलवार को इनकी संख्या बढ़कर १०८ पर पहुंच गई। एकाएक डेंगू रोगियों के बढऩे से स्वास्थ्य विभाग चौकन्ना हो गया है।

कोयम्बत्तूर. डेंगू रोग ने शहर सहित अंचल में पैर पसारने शुरू कर दिए हैं। तीन दिन पहले कोयम्बत्तूर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में डेंगू के13 रोगी भर्ती थे। मंगलवार को इनकी संख्या बढ़कर 108 पर पहुंच गई। एकाएक डेंगू रोगियों के बढऩे से स्वास्थ्य विभाग चौकन्ना हो गया है।
कोयम्बत्तूर मेडिकल कॉलेज अस्पताल के डीन अशोकन ने बताया कि बुखार पीडि़त लगभग 17 रोगियों को बुधवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अस्पताल में विशेष टीम तैनात है। यहां 24 घंटे उपचार की पूरी व्यवस्था है।
यहां न केवल कोयम्बत्तूर जिले बल्कि तिरुपुर, ईरोड , नीलगिरि सहित केरल तक से मरीज इलाज के लिए आते हैं। इस बार अंचल में मानसून में अच्छी बारिश के कारण मच्छर बढ़ गए हैं। सामान्य बुखार के रोगी ही बड़ी संख्या में अस्पताल पहुंच रहे हैं। दीपावली के आसपास फिर से अंचल में बारिश की संभावना है।
चिकित्सा विभाग की संयुक्त निदेशक भानुमति ने अधिकारियों और चिकित्सा कर्मियों की बैठक लेकर उन्हें निर्देश दिए हैं कि देहात में लोगों को सतर्क कर दिया जाए।
सभी सरकारी अस्पतालों में 24 घंटे उपचार की सुविधा में कोताही नहीं बरतें। संदेह होने पर सामान्य बुखार के रोगी की भली भांति जांच करें। उसे पास के बड़े अस्पताल रैफर कर दिया जाए। सभी सरकारी अस्पतालों में डेंगू रोगियों के उपचार एवं उन्हें भर्ती रखने के लिए विशेष वार्ड बनाए जा चुके हैं। सभी बेड पर मच्छरदानी लगी हुई है। संयुक्त निदेशक ने पिछले दिनों शहर के सभी मेडिकल स्टोर संचालकों की भी बैठक ली थी। इसमें कहा गया था कि बिना डॉक्टर की पर्ची के बुखार की दवा मांगने कोई आए तो उसे पहले चिकित्सक से जांच कराने के लिए कहें। उन्होंने आग्रह किया कि मेडिकल स्टोर संचालक अपने नेटवर्क का इस्तेमाल रोगों की रोकथाम और जनता को सतर्क करने में करें। खासकर बिना पर्ची दवा लेने आने वालों को तो डॉक्टर से जांच कराने के लिए अवश्य कहें। अब तक नगर निगम ने डेंगू और मच्छर जनित रोगों से लोगों को सतर्क करने, दवा छिड़काव का अभियान शुरू नहीं किया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned