भ्रम दूर करने के लिए मुफ्त बांटा चिकन

tभ्रम दूर करने के लिए मुफ्त बांटा चिकन

By: brajesh tiwari

Published: 19 Mar 2020, 10:29 AM IST

कोयम्बत्तूर. कोरोना वायरस से ज्यादा रफ्तार अफवाहों की है। चिकन खाने से कोरोना फैलने की अफवाह की वजह से प्रदेश और अंचल में पोल्ट्री उद्योग ठप प्राय: है। कई दिनों से भारी घाटा झेल रहे पोल्ट्री उद्योग मालिकों ने चिकन व कोरोना के बीच कोई सम्बन्ध नहीं होने की समझाइश करते हुए लोगों को २०० किलो से अधिक चिल्ली चिकन मुफ्त वितरित किया। सूत्रों के अनुसार अंचल में तिरुपुर के पल्लडम में बड़े पैमाने पर पोल्ट्री फार्म हैं।
जब से कोरोना की खबरें आना शुरू हई। साथ में चिकन व मांसाहार से इसके फैलने की बात चल निकली।
हालांकि केन्द्र व राज्य सरकार ने प्रटार प्रसार माध्यमों से जनता को इस तरह की अफवाहों पर ध्यान नहीं देने को कहा ।लेकिन चिकन की मांग दिनों दिन घट रही है। हालात यह हो गए कि १८० रुपए प्रति किलो मिलने वाला चिकन ८० से ४० रुपए किलो तक में बिकने लगा। अंडे के दाम पांच रुपए से घट कर दो रुपए हो गए।घाटे से जूझ रहे पोल्ट्री फार्म मालिकों ने बुधवार को नया प्रयोग किया। उन्होंने दो सौ किलो से अधिक चिल्ली चिकन तैयार कराया।एक गाड़ी में लेकर वे शहर के विभिन्न भागों में पहुंचे और उन्होंने लोगों को मुफ्त चिकन बांटा। साथ में पर्चे बांटे जिनमें केन्द्र व राज्य सरकार की ओर से बताया गया कि चिकन खाने से कोरोना नहीं होता।

brajesh tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned