खेतों में टॉवर लगाना गलत : जगदीशन

खेतों में टॉवर लगाना गलत : जगदीशन
खेतों में टॉवर लगाना गलत : जगदीशन

Dilip Sharma | Updated: 20 Sep 2019, 01:14:27 PM (IST) Coimbatore, Coimbatore, Tamil Nadu, India

द्रविड़ मुनेत्र कषगम DMK की उप महासचिव सुब्बुलक्ष्मी जगदीशन ने कहा है कि किसानों की सहमति के बिना उनके खेतों में हाई टेंशन बिजली लाइन के टॉवर नहीं लगाए जाने चाहिए।

कोयम्बत्तूर. द्रविड़ मुनेत्र कषगम DMK की उप महासचिव सुब्बुलक्ष्मी जगदीशन ने कहा है कि किसानों की सहमति के बिना उनके खेतों में हाई टेंशन बिजली लाइन के टॉवर नहीं लगाए जाने चाहिए।
उन्होंने इस मुद्दे पर पिछले दिनों Tiripur तिरुपुर में गिरफ्तार पांच किसानों से गुरुवार को कोयम्बत्तूर सेन्ट्रल जेल में मुलाकात की। बाद में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि जिन किसानों के खेतों में टॉवर लगाए जा चुके हैं,उन किसानों को मुआवजा मिलेगा या नहीं यह भी तय नहीं है।अब फिर से टॉवरों के लिए खेतों में नाप जोख की जा रही है।इस मामले में किसानों की बात सुनी जानी चाहिए।
बिजली की लाइन केरल की तरह भूमिगत की जा सकती है। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों तिरुपुर में टॉवर tower लगाने का विरोध कर रहे किसानों को अधिकारियों ने पहले तो बातचीत के लिए बुलाया और बाद में गिरफ्तार कर लिया। इस मुद्दे पर पिछले दिनों माकपा के प्रदेश सचिव बालाकृष्णन सहित विभिन्न संगठनों के नेताओं ने जल में बंद किसानों से बात की थी। बुधवार को किसानों की गिरफ्तारी और खेतों में टॉवर लगाने के विरोध में कोयम्बत्तूर व तिरुपुर में विरोध प्रदर्शन किया गया। इस दौरान १०० किसान गिरफ्तार किए गए। वे केंद्र और राज्य सरकार से खेतों से बिजली लाइन ले जाने की योजना को रद्द करने की मांग कर रहे थे।उन्होंने जब भारतीय तार कानून १८८५ की प्रतियां जलाने की कोशिश की तो पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned