नदी जल बंटवारे पर चर्चा करेंगे केरल-तमिलनाडु के मुख्यमंत्री

नदी जल बंटवारे पर चर्चा करेंगे केरल-तमिलनाडु के मुख्यमंत्री

Kumar Jeevendra | Updated: 02 Aug 2019, 04:05:21 PM (IST) Coimbatore, Coimbatore, Tamil Nadu, India

पड़ोसी राज्य के साथ नदी जल बंटवारे से जुड़े मसलों को सुलझाने के लिए केरल और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री आपस में बातचीत करेंगे।

पालक्कड. पड़ोसी राज्य के साथ नदी जल बंटवारे से जुड़े मसलों water disputes को सुलझाने के लिए केरल Kerala और ( Tamil Nadu ) तमिलनाडु के मुख्यमंत्री CM आपस में बातचीत करेंगे। दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक २६ अगस्त को तिरुवनंतपुरम में होगी। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ने इस मसले पर बातचीत के लिए कुछ समय पहले केरल के मुख्यमंत्री को पत्र लिखा था। इसकेे बाद ही दोनों राज्यों के बीच मुख्यमंत्री स्तर पर बातचीत का निर्णय लिया गया।
केरल के जल संसाधन मंत्री के. कृष्णनकुट्टी ने गुरुवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि केरल के CM मुख्यमंत्री पी. विजयन और ( Tamil Nadu ) तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई. के. पलनीस्वामी के बीच कावेरी, सिरुवानी, मुल्लैपेरियार, अलियार और परम्बिकुलम नदी पर प्रस्तावित परियोजानाओं से जुड़े अंतरराज्यीय समझौतों को लेकर चर्चा होगी।
मंत्री ने कहा कि बातचीत के दौरान केरल पड़ोसी राज्य तमिलनाडु से इन समझौतों का पालन करने की अपील करेगा। पड़ोसी राज्य ने कई बार इन समझौतों का उल्लंघन किया है जिसकेे कारण केरल को अपने हिस्से का पानी नहीं मिल पाया।
उन्होंने कहा कि केरल परम्बिकुलम-अलियार परियोजना (पीएपी) को नए सिरे से लागू करने की कोशिश कर रहा है लेकिन तमिलनाडु ने कई बार समझौते का उल्लंघन किया और केरल ने इसे लेकर उच्चतम न्यायालय में याचिका भी दायर की है।
नए समझौते के मुताबिक एडामलेयर बांध में बह रहे अन्नामलेयर नदी के पूरे चार टीएमसी पानी देने संबंधी तमिलनाडु की मांग के बारे में पूछे जाने पर मंत्री ने कहा कि तमिलनाडु को केरल से पानी देने को लेकर कोई समझौता नहीं हुआ है क्योंकि राज्य का पेयजल और सिंचाई के लिए पानी की कमी का सामना करना पड़ रहा है। राज्य में इस साल मानसून के दौरान कम बारिश हुई है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned