तफरीह को निकले, पुलिस के डंडे खा कर वापस लौटे

पुलिस अब अपनी पर उतर आई हैं। लॉकडाउन के दूसरे दिन पुलिस सख्त हो गई है। पहले दिन तो समझाइश की गई पर गुरुवार को नजारा बदल गया। प्रशासन ने देखा कि लोग सरेआम जीवन से खिलवाड़ पर उतारू हैं और सरकार के निर्देश को हल्के में ले रहे हैं।

कोयम्बत्तूर. पुलिस अब अपनी पर उतर आई हैं। लॉकडाउन के दूसरे दिन पुलिस सख्त हो गई है। पहले दिन तो समझाइश की गई पर गुरुवार को नजारा बदल गया। प्रशासन ने देखा कि लोग सरेआम जीवन से खिलवाड़ पर उतारू हैं और सरकार के निर्देश को हल्के में ले रहे हैं। आखिर पुलिस ने शहर के सभी प्रमुख चौराहों पर मोर्चा संभाला। खाली सड़कों पर वेबजह फर्राटे भर रहे युवाओं को रोक-रोक कर लट्ठ मारना शुरू कर दिया। कई जगह युवाओं को कुर्सी बन कर खड़े रहने की सजा दी गई। इनके वीडियो बने जो पूरे दिन सोशल मीडिया पर वायरल होते रहे। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि जिन्हें आने-जाने की छूट है या फिर आपात स्थिति में घर से निकलना पड़ रहा है। उन्हें जाने दिया जा रहा है। पर जो सिर्फ शहर का जायजा लेने निकल रहे हैं, उन पर सख्ती जरूरी है। ऐसे लोग अभी भी कोरोना रोग की गंभीरता को मजाक में ले रहे हैं। आखिर पूरे देश में लॉकडाउन किया गया हो तो सभी को कोरोना की भयावहता को समझना चाहिए। उन्होंने कहा कि घरों से नहीं निकले।अब और भी सख्त कदन उठाया जा सकता है।डंडे तो पड़ेंगे ही

Dilip Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned