कैदियों का अनशन, प्रशिक्षु चिकित्सकों का धरना

कैदियों का अनशन, प्रशिक्षु चिकित्सकों का धरना
कैदियों का अनशन, प्रशिक्षु चिकित्सकों का धरना

Rahul sharma | Updated: 21 Aug 2019, 03:50:16 PM (IST) Coimbatore, Coimbatore, Tamil Nadu, India

एक तरफ कैदियों की हड़ताल और दूसरी तरफ बकाया वृतिका राशि (स्टाइपएंड) की मांग को लेकर प्रशिक्षिु चिकित्सकों का धरना

कोयम्बत्तूर. एक तरफ कैदियों की हड़ताल और दूसरी तरफ बकाया वृतिका राशि (स्टाइपएंड) की मांग को लेकर प्रशिक्षिु चिकित्सकों के धरने के कारण को मंगलवार को कोयम्बत्तूर Coimbatore चिकित्सा महाविद्यालय व अस्पताल (सीएमसीएच) में कुछ देर के लिए अफरा-तफरी का माहौल रहा। कैदियों Prisoners की सोमवार शाम से जारी भूख हड़ताल के बाद प्रशिक्षु चिकित्सकों Doctors के धरने ने अस्पताल प्रशासन की मुश्किलें बढ़ा दी।
मिली जानकारी के मुताबिक अस्पताल के कैदी वार्ड में उपचार के लिए भर्ती सोमवार रात से ही भूख हड़ताल पर थे। कैदियों का आरोप था कि उनकी सही तरीके से देखभाल नहीं की जा रही है। वार्ड में भर्ती आठ कैदियों ने ढंग से इलाज नहीं होने और चिकित्सकों के ध्यान नहीं देने का आरोप लगाते हुए सोमवार रात को खाना नहीं खाया। हालांकि, मंगलवार सुबह अस्पताल पहुंचे जेल और पुलिस विभाग के अधिकरियों ने एकक को छोड़कर सात कैदियों को अनशन तोडऩे के लिए राजी कर लिया।
कैदियों के अनशन खत्म करने से अस्पताल प्रशासन ने राहत की सांस ली ही थी कि प्रशिुक्ष चिकित्सक तीन महीने से लंबित वृतिका राशि के भुगतान की मांग को लेकर संकायाध्यक्ष (डीन) धरना पर बैठ गए। प्रशिक्षु चिकित्सकों के धरना में शामिल होने के कारण मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा। हालांकि, बाद में डीन डॉ अशोकन के धन मिलने पर तत्काल बकाया राशि का भुगतान किए जाने का आश्वासन देने पर प्रशिक्षु चिकित्सकों ने धरना वापस ले लिया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned