विद्यार्थी पुस्तक पढऩे को आदत बनाएं

नई तकनीकों के कारण आज के विद्यार्थियों में पढऩे की आदत घटती जा रही है। मोबाइल और इंटरनेट के कारण विद्यार्थी किताबें पढऩे के बजाय हर जानकारी सर्च कर लेते हैं।

By: Rahul sharma

Published: 11 Sep 2019, 05:04 PM IST

मदुरै. नई तकनीकों के कारण आज के विद्यार्थियों में पढऩे की आदत घटती जा रही है। मोबाइल और इंटरनेट के कारण विद्यार्थी किताबें पढऩे के बजाय हर जानकारी सर्च कर लेते हैं।
madurai नगर पुलिस आयुक्त एस डेविडसन देवसिरवथम ले थमुक्कम मैदान में आयोजित पुस्तक मेले में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही।
उन्होंने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि पुस्तकों के अध्ययन से ज्ञान का विकास कर सकते हैं। पुस्तकों के अध्ययन से सामान्य ज्ञान बढ़ता है। उन्होंने कहा कि किसी भी कला या पेशे में केवल प्रशिक्षण के दस हजार घंटे के बाद कोई भी विशेषज्ञ बन सकता है। इसी प्रकार एक ही किताब पढऩे से भी वही जानकारी प्राप्त की जा सकती है। छात्रों को पुस्तक पढऩा अनिवार्य बनाया जाना चाहिए।
इसके लिए शिक्षक माता-पिता और रिश्तेदारों को प्रोत्साहित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि मदुरै में अपराध दर में पिछले एक साल में गिरावट आई है। उन्होंने कहा कि अधिकांश मामलों में अपराधियों की उम्र 15 से 25 के बीच है,जो बीच में पढ़ाई छोड़ देने के कारण अन्य गतिविधियों में लिप्त हो जाते हैं। इस मौके पर पेंटिंग, भाषण व प्रश्नोत्तरी आदि प्रतियोगिताओं में अव्वल रहे विद्यार्थियों को प्रमाण-पत्र देकर पुरुस्कृत किया।

Rahul sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned