चेताया था प्रशासन ने

चेताया था प्रशासन ने
चेताया था प्रशासन ने

Dilip Sharma | Publish: Oct, 11 2019 01:38:00 PM (IST) Coimbatore, Coimbatore, Tamil Nadu, India

शहर से सटे तड़ागम इलाके में अवैध ईंट भट्टों और रेत खनन का मामला जोर पकड़ता जा रहा है। मामला गरमाने पर पिछले दिनों जिला प्रशासन ने सख्त रुख अपनाया था। इस वजह से तड़ागम में तो अवैध खनन थम गया किन्तु रेत माफिया थोड़ामुथुर क्षेत्र में खनन में जुट गए।

कोयम्बत्तूर. शहर से सटे तड़ागम इलाके में अवैध ईंट भट्टों और रेत खनन का मामला जोर पकड़ता जा रहा है।
जनता की ओर से मिल रही शिकायतों के बाद प्रशासन कार्रवाई पर मजबूर हो रहा है। बुधवार को तमिलनाडु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की चल प्रयोगशाला और अधिकारी यहां पहुंचे।

तड़ागम का मामला गरमाने पर पिछले दिनों जिला प्रशासन ने सख्त रुख अपनाया था। इस वजह से तड़ागम में तो अवैध खनन थम गया किन्तु रेत माफिया थोड़ामुथुर क्षेत्र में खनन में जुट गए। करीब १० दिन पहले तहसीलदार सुरेश कुमार और पेरियानायकनपालयम के पुलिस अधीक्षक मणि ने तड़ागम पहुंच कर ईंट भट्टा मालिकों को चेताया था कि जल्द ही चेन्नई से अधिकारियों की टीम यहां के हालात देखेगी। अगर अवैध ईंट भट्टे पाए गए या फिर नियमों के विपरीत कुछ भी मिला तो कार्रवाई के लिए तैयार रहें। हालांकि ईंट भट्टा मालिकों ने आरोपों से इनकार किया। उन्होंने भरोसा दिलाया कि वे किसी भी प्रकार की जांच में सहयोग करेंगे।

मुद्दा उठाने पर किया हमला
गत दो अक्टूबर को चिन्ना तड़ागम में आयोजित ग्रामसभा में अवैध ईंट भट्टा और रेत खनन का मामला उठाने पर मक्कल नीधि मय्यम के तीन सदस्यों बाबू, सुरेश, प्रभु और एक सामाजिक कार्यकर्ता पर समाजकंटकों ने हमला कर दिया। अचानक हुए इस घटनाक्रम से ग्राम सभा में हड़कम्प मच गया। लोग डर कर भाग छूटे। चारों घायलों को कोयम्बत्तूर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पार्टी के उपाध्यक्ष आर. महेंद्रन एवं पदाधिकारियों ने घायल कार्यकर्ताओं से अस्पताल में मिल कर पूछताछ की। एमएनएम अध्यक्ष कमल हासन ने भी फोन पर तीनों कार्यकर्ताओं से बातचीत कर उनका हौंसला बढ़ाया । बाद में महेन्द्रन ने जिला कलक्टर व जिला पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन देकर बताया कि हमलावरों में एडीएमके कार्यकर्ता और अवैध ईंट भट्टा संचालकों के गुर्गे शामिल हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned