तिरुपुर बना कोरोना मुक्त जिला

कोयम्बत्तूर में उपचार के बाद दो रोगी स्वस्थ हो कर लौटे
तिरुपुर अब कोरोना से मुक्त जिला बन गया है। पिछले एक सप्ताह से यहां कोरोना के कोई रोगी नहीं मिला है। वहीं जिले के दो कोरोना पीडि़त भी सोमवार को इलाज के बाद घर भेज दिए गए।

By: Dilip

Published: 12 May 2020, 02:37 PM IST

कोयम्बत्तूर में उपचार के बाद दो रोगी स्वस्थ हो कर लौटे
तिरुपुर. तिरुपुर अब कोरोना से मुक्त जिला बन गया है। पिछले एक सप्ताह से यहां कोरोना के कोई रोगी नहीं मिला है। वहीं जिले के दो कोरोना पीडि़त भी सोमवार को इलाज के बाद घर भेज दिए गए। सूत्रों ने बताया कि यहां के दो रोगियों का कोयम्बत्तूर के ईएसआई अस्पताल में उपचार चल रहा था। वे पूरी तरह स्वस्थ हो चुके हैं। उन्हें घर भेज दिया गया है। चिकित्सकों ने दोनों को अभी सतर्कता बरतने व एकांत में रहने के निर्देश दिए।जिला कलक्टर विजय कार्तिकेयन ने बताया कि वर्तमान में तिरुपुर में कोरोना का कोई मामला नहीं है। इडुवई के दो पीडि़त थे वे वे पूरी तरह से ठीक हो गए हैं। अभी तक तिरुपुर में ११४ लोग संक्रमित हुए थे और इलाज के बाद सभी ठीक हो गए।

केरल जाने के लिए ई-पास जरूरी
कोयम्बत्तूर. कोयम्बत्तूर से केरल जाने के इच्छुक लोगों को ई पास लेना अनिवार्य है। ई पास उन्हें केरल सरकार से भी लेना होगा। कोयम्बत्तूर पुलिस के अनुसार लॉकडाउन में रियायत के बाद अपने काम-धंधों के लिए लोग केरल जाना चाहते हैं, लेकिन उसके लिए केरल सरकार का ई पास अनिवाय है। यह ऑनलाइन हासिल किया जा सकता है। उल्लेखनीय है कि केरल की सीमा से सटे कोयम्बत्तूर के गांवों के लोगों का वहां रोजगार, व्यापार व अन्य कार्योँ से आना जाना लगा रहता है, लेकिन वालयार चेक पोस्ट पर सभी को रोका जा रहा है। लोग दलील देते है कि हम वहां काम करते हैं, लेकिन कोरोना संकट की वजह से अब ई पास जरूरी कर दिया है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned