रंग लाया विरोध, बर्बाद नहीं हुई डेढ़ टन फल-सब्जियां

रंग लाया विरोध, बर्बाद नहीं हुई डेढ़ टन फल-सब्जियां

Kumar Jeevendra | Updated: 27 May 2019, 12:38:45 PM (IST) Coimbatore, Coimbatore, Tamil Nadu, India

ग्रीष्मोत्सव के आखिरी चरण में इस बार कुन्नूर के सिम्स पार्क में आयोजित फल-सब्जी प्रदर्शनी के दौरान कृषि और बागवानी उत्पादों की किसी तरह की बर्बादी नहीं हुई।

ऊटी. ग्रीष्मोत्सव के आखिरी चरण में इस बार कुन्नूर के सिम्स पार्क में आयोजित फल-सब्जी प्रदर्शनी के दौरान कृषि और बागवानी उत्पादों की किसी तरह की बर्बादी नहीं हुई। यह संभव हुआ किसानों के विरोध के कारण।
दरअसल, हर साल आयोजित होने वाली इस प्रदर्शनी में विभिन्न तरह की आकृतियां बनाने के लिए एक से डेढ़ टन फल और सब्जियों का उपयोग किया जाता था। सज्जा के लिए फलों और सब्जियों को अलग-अलग आकृति में काट कर इस्तेमाल किया जाता था जिसकी वजह से प्रदर्शनी में इस्तेमाल किए गए फल-सब्जी का दुबारा उपयोग नहीं हो पाता था।
किसानों ने कई बार इसका विरोध किया। इस बार भी किसानों ने कलक्टर को ज्ञापन देकर ऐसी व्यवस्था करने की मांग की थी जिससे प्रदर्शनी में सज्जा के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले फल-सब्जी बर्बाद नहीं हों।
किसानों की अपील रंग लाई और बागवानी विभाग ने इस बार शून्य अपशिष्ट की अवधारणा पर दो दिवसीय प्रदर्शनी का आयोजन किया।
इसके लिए विभाग ने प्रदर्शनी के स्वरुप में भी बदलाव किया। प्रदर्शनी में बैलगाड़ी, तितली, मोर, अशोक स्तंभ सहित अन्य आकृतियां बनाने के लिए फल और सब्जियों को काटे बिना इस्तेमाल किया गया।
रविवार को समाप्त हुई प्रदर्शनी में इस्तेमाल किए गए फल और सब्जियों से बागवानी विभाग के फल प्रसंस्करण यूनिट में जैम और अन्य उत्पाद बनाए जाएंगे। बागवानी विभाग के संयुक्त निदेशक शिवसुब्रमण्यम सामराज ने कहा कि पहली बार हमने प्रदर्शनी में सज्जा के लिए फलों का उपयोग बिना नुकसान पहुंचाए किया। उन्होंने कहा कि इससे लोगों में भी कृषि और बागवानी उत्पादों के संरक्षण को लेकर जागरुकता बढ़ेगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned