2022 विश्व कप के बाद संन्यास ले सकती हैं मिताली राज

भारतीय महिला वनडे टीम की कप्तान मिताली राज ने शनिवार को संकेत दिया कि न्यूजीलैंड में 2022 में होने वाला 50 ओवर का विश्व कप उनके 23 साल के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर का अंतिम टूर्नामेंट होगा.....

By: भूप सिंह

Published: 24 Apr 2021, 06:39 PM IST

नई दिल्ली। भारतीय महिला वनडे टीम की कप्तान मिताली राज ने बातों ही बातों में संकेत दिया कि न्यूजीलैंड में 2022 में होने वाला वनडे वल्र्ड कप उनके 23 साल के अंतरराष्ट्रीय कॅरियर का आखिरी टूर्नामेंट होगा। मिताली ने ‘1971: द बिगनिंग ऑफ इंडियाज क्रिकेटिंग ग्रेटनेस’ किताब के वर्चुअल लॉन्चिंग के दौरान कहा, ‘अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में २१ साल हो चुके हैं और मैं जानती हूं कि 2022 मेरा संन्यास का वर्ष होगा। जो विश्व कप के बाद हो सकता है।’ 38 वर्षीय महिला क्रिकेटर मिताली का कहना है कि वह इन दिनों न्यूजीलैंड की जीवंत पिचों के लिए कुछ बेहतरीन सीम गेंदबाजी विकल्प भी तलाश कर रही है।

यह भी देखें :IPL 2021 Points Table: RR को 10 विकेट से हराकर नंबर-1 पर पहुंची कोहली की टीम RCB

7000 रन पूरे करने वाली पहली महिला मिताली
मिताली का कहना है कि पिछला साल मेरे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में २० वर्षों के बराबर है। गौरतलब है कि मिताली एकमात्र ऐसी महिला बल्लेबाज हैं जिनके नाम वनडे में ७००० से ज्यादा रन है। उन्होंने कोविड-19 काल के दौरान खुद को प्रेरित रखने की बात की। उन्होंने कहा कि मैं जानती हूं कि हम मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं, लेकिन मैंने अपनी फिटनेस पर काम करने के लिए काफी कुछ किया है। वैसे भी मेरी उम्र कम नहीं हो रही, बल्कि मेरी उम्र बढऋ रही है और मैं फिटनेस की अहमियत जानती हूं।

विश्व कप से पहले हर दौरा अहम
मिताली ने कहा, हमें विश्व कप के लिए भावनात्मक रूप से पूरी तरह तैयार रहना होगा। वनडे वल्र्ड कप से भारतीय महिला टीम को चार द्विपक्षीय श्रंृखलाएं खेलनी हैं, जिसमें इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज के दौरे होने हैं। अब से प्रत्येक दौरान बैतार बल्लेबाज मेरे लिए अहम औ साथ ही मुझे विश्व कप के लिए टीम तैयार करनी है और उन्हें एकजुट करना है।

यह भी देखें :IPL 2021 Purple cap: पर्पल कैप पर हर्षल पटेल का कब्जा, जानिए टॉप 5 में कौन-कौन हुए शामिल

तेज गेंदबाजी पर काम करने की जरूरत
मिताली का कहना है कि हम लड़कियां कम और सीमित सुविधाओं में काम कर रही हैं। सभी का ध्यान आगामी 2022 वनडे कप पर है। उन्होंने स्वीकार किया कि तेज गेंदबाजी ऐसा विभाग है जिसे सुधारने की जरूरत है और इसमें भविष्य के लिए एक पूल बनाने की जरूरत है क्योंकि झूलन गोस्वामी भी अपने कॅरियर के अंत की ओर हैं। मिताली ने कहा, ‘हमें निश्चित रूप से कुछ खिलाडिय़ों को तलाशना होगा और न्यूजीलैंड के लिए तैयार करना होगा।’ इस दौरान महान क्रिकेटर सुनील गावस्कर भी पैनल में शामिल थे, मिताली को उनसे भी कुछ सलाह मिली। गावस्कर को लगता है कि मिताली की टीम विराट कोहली की टीम से प्रतिद्वंद्वियों से डरे बिना उन्हें चुनौती देने की चीज सीख सकती है।

उन्होंने कहा, ‘मैं अपनी पत्नी के साथ लाड्र्स में 2017 महिला वनडे विश्व कप फाइनल देख रहा थ। मैंने देखा कि इंग्लैंड की खिलाड़ी आपके निचले क्रम को परेशान कर रही थी और अपने हावभाव से उन्हें भयभीत कर रही थीं। उन्होंने कहा कि ‘मैं लड़कियों से चाहूंगा कि वे नीचे देखने के बजाय प्रतिद्वंद्वी की आंखों में घूर कर देखें। मुझे लगता है कि ‘बॉडी लैंग्वेज’ काफी अहम पहलू है। विराट कोहली को देखो, वह प्रतिद्वंद्वी को घूरता है और फिर पूरी टीम भी ऐसा ही करती है।

आइए जानें- IPL 2021 Full Schedule and Fixtures
आइए जानें- IPL 2021- Royal Challengers Bangalore Squad and Players list

भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned