इंग्लैंड दौरे के लिए टीम इंडिया का ऐलान, BCCI और चयनकर्ताओं से फैंस ने पूछे ये 4 बड़े सवाल

न्यूजीलैंड में वर्ल्ड टेस्ट चैपिंयनशिप के फाइनल और इंग्लैंड दौरे के लिए टीम इंडिया की घोषणा कर दी गई है। लेकिन कई खिलाड़ियों की अनदेखी के चलते लोग बीसीसीआई और चयनकर्ताओं से खफा हैं।

 

By: भूप सिंह

Updated: 08 May 2021, 03:25 PM IST

 

नई दिल्ली। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले और इसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ 5 टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए भारतीय चयन समिति ने 20 सदस्यीय टीम ऐलान कर दिया है। भले खबरें आ रही थी कि इस दौरे के लिए 30 सदस्यीय टीम भेजी जाएगी, लेकिन आखिरकार 20 खिलाड़ियों का चयन किया गया है। इसमें केएल राहुल और ऋद्धिमान शाह ऐसे दो खिलाड़ी हैं जिन्हें फिटनेस टेस्ट पास करके टीम में शामिल होना होगा। टीम के चयन के बाद लोग कई सवाल उठा रहे हैं।

यह भी पढ़ें— सचिन तेंदुलकर के बारे में ऐसी 5 बातें जो कम लोग ही जानते हैं

20 सदस्यीय टीम ही क्यों?
इस लंबे दौरे के लिए 20 सदस्यों का चयन ही क्यों? गौरतलब है कि टीम को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल समेत छह टेस्ट मैच और खेलने हैं। इसके अतिरिक्त खिलाड़ियों को 14 दिन के क्वारंटीन पीरियड में रहना होगा। अगर कोई खिलाड़ी संक्रमित हो जाता है तो उसका विकल्प क्या होगा।

इंग्लैंड दौरे के लिए टीम चुनी गई टीम पर बीसीसीआई से चयनकर्ताओं ने पूछे ये 4 सवाल?

तीन विकेटकीपर का चयन क्यों नहीं?
इस लंबे दौरे के लिए दो ही विकेटकीपर का चयन क्यों किया। साहा का टिकट फिटनेस टेस्ट के बाद ही तय करेगा। ऐेसे में अकेले पंत पर बोझ ज्यादा रहेगा। ऐेसे में तीसरा विकेटकीपर क्यों नहीं रखा गया।

पृथ्वी शॉ को क्यों अनदेखा किया?
पहले विजय हजारे ट्रॉफी और फिर आईपीएल में लगातार अच्छा स्कोर करने वाले पृथ्वी शॉ की अनदेखी क्यों हुई। जबकि उनके प्रदर्शन को देखते हुए सभी को यह लग रहा था कि उनकी टीम में वापसी तय है। लेकिन उनको नहीं चुने जाने से क्रिकेट के फैंस काफी निराश हैं। जबकि चयनकर्ताओं का कहना है कि शॉ सफेद गेंद से अच्छा खेल रहे हैं, लेकिन अभी लाल गेंद से उनको खुद को साबित करना है।

यह भी पढ़ें— अब और अधिक एनर्जी एफिशियंट हुए सचिन तेंदुलकर के पसंदीदा फैंस

भुवनेश्वर की वापसी क्यों नहीं हुई?
इंग्लैंड दौरे के लिए भुवनेश्वर कुमार को टीम में शामिल नहीं किया गया है, जबकि सभी जानते हैं कि भुवी एक अलग शैली के गेंदबाज हैं और उनकी ताकत सीम और स्विंग है, जो इंग्लैंड के हालातों में हमेशा से ही सर्वोच्च और आदर्श मानी गई है।

भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned