क्रिकेट इतिहास में जो काम पिछले 68 सालों में नहीं हो सका था, वो एलिस्टर कुक ने आज कर दिया

क्रिकेट इतिहास में जो काम पिछले 68 सालों में नहीं हो सका था, वो एलिस्टर कुक ने आज कर दिया

Prabhanshu Ranjan | Publish: Sep, 10 2018 04:39:03 PM (IST) क्रिकेट

भारत के खिलाफ अपने करियर का अंतिम टेस्ट मैच खेल रहे एलिस्टर कुक ने आज लंदन में बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम किया है। इस रिकॉर्ड को बनाने वाले वो दुनिया के दूसरे बल्लेबाज है।

नई दिल्ली। क्रिकेट की लोकप्रियता में चार चांद लगाने की सबसे बड़ी भूमिका कीर्तिमानों की होती है। लाइव मैच के दौरान क्या नए रिकॉर्ड बने... क्या टूटे... इसके प्रति प्रशंसकों की जिज्ञासा हमेशा ही बनी रहती है। इस समय भारतीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड से उनके घर में लोहा ले रही है। निश्चित तौर पर इस सीरीज के दौरान भी कई बड़े रिकॉर्ड कायम हुए। लेकिन लंदन में जारी सीरीज के आखिरी टेस्ट मैच में इंग्लैंड के दिग्गज बल्लेबाज एलिस्टर कुक ने एक ऐसे रिकॉर्ड की बराबरी की, जो क्रिकेट इतिहास में पिछले 68 सालों से नहीं हो सकी थी।

अपना अंतिम टेस्ट खेल रहे हैं कुक-
भारत और इंग्लैंड के बीच जारी यह पांचवां टेस्ट मैच एलिस्टर कुक के क्रिकेट करियर का अंतिम मुकाबला है। इस सीरीज के चौथे मैच के बाद कुक ने अपने संन्यास का ऐलान कर दिया था। जिस काम के जरिए आप सालों तक पूरी दुनिया के चहेते बने रहे, उसे छोड़ना मामूली बात नहीं होती है। हालांकि कुक को जिस तरीके से विदाई मिलने जा रही है, उससे उनका दुख निश्चित तौर पर कम हो जाएगा।

दोनों पारियों में जमाया अर्धशतक-
इस टेस्ट सीरीज के शुरुआती चार मैचों में आउट ऑफ फॉर्म रहे कुक ने पांचवें टेस्ट की दोनों पारियों में अर्धशतक जमाया। वो पहली पारी में 71 रन बना कर आउट हुए थे। जबकि दूसरी पारी में फिलहाल 76 रन बना कर खेल रहे हैं। करियर के अंतिम मुकाबले में कुक के बल्ले से ऐसी यादगार पारी निकलेगी, इसकी उम्मीद कम ही लोगों को रही होगी।

बनाया ये खास रिकॉर्ड-
अपने अंतिम टेस्ट की दोनों पारियों में 50 से ज्यादा का स्कोर बनाते ही कुक ने एक खास रिकॉर्ड अपने नाम किया। कुक क्रिकेट इतिहास के दूसरे ऐसे बल्लेबाज बने जिन्होंने अपने डेब्यू और अंतिम टेस्ट में दो 50 प्लस का स्कोर किया हो। बताते चले कि कुक ने अपना पर्दापण भारत के खिलाफ एक मार्च 2006 को किया था। इस मैच की पहली पारी में कुक ने 60 रन जबकि दूसरी पारी में 104 रनों की शानदार पारी खेली थी।

ब्रूस मिचेल के रिकॉर्ड की बराबरी-
कुक से पहले अपने करियर के पहले और अंतिम मुकाबले में 50 से ज्यादा रनों की दो पारी खेलने का रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटर ब्रूस मिचेल के नाम था। मिचेल ने पहले मैच में इंग्लैंड के खिलाफ पहली पारी में 88 रन जबकि दूसरी पारी में 61 रन बनाए थे। यह मैच 15 जून 1929 को बर्मिंघम में खेला गया था। इसके साथ-साथ मिचेल ने अपने करियर का अंतिम टेस्ट पांच मार्च 1949 में इंग्लैंड के खिलाफ पोर्ट एलिजाबेथ में खेला था। इस मैच की पहली पारी में मिचेल ने 99 रन जबकि दूसरी पारी में 56 रन बनाए।

Ad Block is Banned