पिता सचिन की राह पर अर्जुन तेंदुलकर, अंडर-19 के लिए हुआ चयन

सचिन के बेटे अर्जुन का चयन मुबंई की अंडर 19 टीम के लिए किया गया है। 

By:

Published: 11 Sep 2017, 12:45 AM IST

नई दिल्ली। पिता के पेशे में बेटे का कदम बढ़ाना लाजिमी माना जाता है। क्योंकि बेटा बचपन से ही पिता के पेशे को बहुत करीब से देख रहा होता है। ऐसे में उसके लिए पिता के पेशे को अपनाना अपेक्षाकृत आसान हो जाता है। इसके ढेरों उदाहरण भी है। हालांकि इस बात की कोई गारंटी नहीं होती कि बेटा भी पिता की तरह कामयाबी पाएगा। बहरहाल सदियों से चली आ रही इस परंपरा को अब अर्जुन का साथ भी मिल गया है। पिता सचिन की राह पर अर्जुन तेंदलुकर ने तेजी से कदम बढ़ाया है। इस सफर में अर्जुन को शुरुआती कामयाबी भी मिली है। अर्जुन का चयन मुबंई अंडर-19 की टीम के लिए हो गया है।

 

arjun tendulkar

पहले भी मुबंई की टीम में हुआ है चयन
अर्जुन बड़ौदा में होने वाले जेवाई लेले ऑल इंडिया अंडर 19 टूर्नामेंट में मुबंई की ओर से खेलते दिखेंगे। आपको बता दें कि इससे पहले अर्जुन मुंबई की अंडर 14 और अंडर 16 टीमों के लिए खेल चुके हैं। हालांकि अर्जुन पहली बार मुबंई की अंडर 19 की टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे। लिहाजा यह अर्जुन के लिए एक बड़ी कामयाबी है।

हरफरमौला खिलाड़ी है अर्जुन
अर्जुन का चयन टीम में एक हरफरमौला खिलाड़ी के रूप में किया गया है। आपको बता दें अर्जुन अपने पिता सचिन के उलट बाएं हाथ के ऑल राउंडर खिलाड़ी हैं। अर्जुन अपनी गेंदबाजी के कारण पहले भी चर्चा में आ चुके है।

 

arjun tendulkar

16 से 23 सितंबर तक चलेगा टूर्नामेंट
जेवाई लेले वनडे टूर्नामेंट का आगाज 16 सितंबर को होगा। जबकि यह टूर्नामेंट 23 सितंबर को समाप्ता होगा। यह टूर्नामेंट गुजरात के बड़ोदा खेला जाएगा। अर्जुन इससे पहले तब सुर्खियों में आए थे जब उनकी तेज बाउंसर से इंग्लैंड के बल्लेबाज जॉनी बेयरोस्टो चोट लगने पर दर्द से कहराते हुए नजर आए थे। साथ ही अर्जुन कई बार मुबंई की ओर से उपयोगी पारी भी खेल चुके हैं। 

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned