Asia Cup 2018: छह बार की चैंपियन है भारतीय टीम, टूर्नामेंट शुरू होने से पहले जानें ये रोचक आंकड़ें

एशिया कप की सबसे सफल टीम भारत है। टीम इंडिया ने छह बार इस टूर्नामेंट का खिताब जीता है। जानें अन्य देशों का प्रदर्शन कैसा हैं...

September, 1309:26 PM

क्रिकेट

नई दिल्ली। एशिया कप 2018 का आयोजन 15 सितंबर से संयुक्त अरब अमीरात में होने जा रहा है। भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका, बांग्लादेश, अफगानिस्तान और हांगकांग की टीमों के बीच इस टूर्नामेंट में एशिया का बॉस बनने की रोचक जंग होगी। यह एशिया कप का 14वां आयोजन है। 6 टीमों के बीच 11 दिनों तक चलने वाले इस टूर्नामेंट में कुल 13 मुकाबले खेले जाएंगे। इस टूर्नामेंट की शुरुआत होने से पहले आईए जानते है इसके इतिहास को...

7वीं बार चैंपियन बनना चाहेगी भारतीय टीम-
दो बार की विश्च चैम्पियन भारत शनिवार से यहां शुरू होने जा रहे एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट में रिकॉर्ड सातवीं बार यह खिताब अपने नाम करना चाहेगा। भारत ने अब तक सर्वाधिक छह बार एशिया कप का खिताब जीता है। इनमें पांच बार वनडे प्रारूप में और एक बार टी-20 प्रारूप में जीते गए खिताब शामिल हैं। भारत ने एशिया कप के इतिहास में अब तक कुल 48 मैच खेले हैं, जिसमें से उसने 31 जीते हैं और 16 हारे हैं जबकि एक का कोई परिणाम नहीं निकला है।

यह भी पढ़े - एशिया कप 2018: जानें पूरा कार्यक्रम, कब किस टीम से भिड़ेगी भारतीय टीम

शुरुआती तीन सीजनों का विजेता है भारत-
अप्रैल 1984 में संयुक्त अरब अमीरात के शारजाह में खेले गए एशिया कप के पहले संस्करण में भारत ने श्रीलंका को 10 विकेटों से हराकर खिताब अपने नाम किया था। इसके बाद उसने 1988 में बांग्लादेश की मेजबानी में श्रीलंका को छह विकेट से मात देकर दूसरी बार खिताब पर कब्जा जमाया था। भारतीय टीम ने एशिया कप में खिताबी हैट्रिक अपनी मेजबानी में 1990/91 में पूरी की थी जब उसने श्रीलंका को सात विकेट से हराया था। इसके बाद उसने 1995 में शारजाह में श्रीलंका को ही आठ विकेट से पराजित कर लगातार तीसरी बार और कुल चौथी बार खिताब जीता था।

15 साल के इंतजार के बाद 2010 में बना विजेता-
1995 में खिताब जीतने के बाद भारत को अपने अगले खिताब के लिए 15 साल का लंबा इंतजार करना पड़ा था। हालांकि इन 15 वर्षो के बीच में वह दो बार खिताब जीतने से चूक गया था और श्रीलंका के हाथों फाइनल में उसे हार का सामना करना पड़ा था। लगातार दो बार खिताब से चूकने के बाद भारत ने 2010 में मेजबान श्रीलंका को 81 रन से हराकर रिकॉर्ड पांचवीं बार एशिया का चैम्पियन बनने का गौरव हासिल किया। लेकिन इसके बाद वह 2012 और 2014 में फाइनल में पहुंचने में नाकाम रहा।

यह भी पढ़ें - एशिया कप 2018: वीवीएस लक्ष्मण ने पाकिस्तान के इस क्रिकेटर को बताया ट्रंप कार्ड

श्रीलंका और पाकिस्तान का प्रदर्शन-
वहीं 2016 में पहली बार टी-20 प्रारूप में शुरू किए इस टूर्नामेंट में उसने मेजबान बांग्लादेश को मात देकर खिताब अपने नाम किया था। भारत के अलावा पाकिस्तान दो बार (2000 और 2012) एशिया कप का खिताब जीता है। उसने इसमें कुल 44 कुल मैच खेले हैं जिसमें से 26 जीते हैं और 17 हारा है जबकि एक का कोई परिणाम नहीं निकला है। श्रीलंका पांच बार (1986, 1997, 2004, 2008 और 2014) में यह खिताब पर कब्जा जमा चुका है। उसने एशिया कप में अब तक कुल 52 मैच खेले हैं जिसमें 35 जीते हैं और 17 हारा है।

एक ही ग्रुप में है भारत और पाकिस्तान-
वहीं बांग्लादेश दो बार (2012, 2016) में उपविजेता रह चुका है। बांग्लादेश ने 42 मैच खेले हैं जिसमें सात जीता है और 35 हारे हैं। एशिया कप इस बार 15 से 28 सितम्बर तक चलेगा, जिसमें भारत को पाकिस्तान और हांगकांग के साथ ग्रुप-ए में रखा गया है। इसके अलावा अफगानिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका ग्रुप-बी में शामिल है। प्रत्येक ग्रुप से शीर्ष दो टीमें सुपर फोर में अपना स्थान पक्का करेंगी। नियमित कप्तान विराट कोहली के बिना टूर्नामेंट में हिस्सा लेने पहुंची भारतीय टीम को अपना पहला मुकाबला क्वालिफायर हांगकांग से खेलना है। रोहित शर्मा की कप्तानी वाली भारतीय टीम इसके बाद पाकिस्तान से भिड़ेगी।

यह भी पढ़ें - एशिया कप 2018: कप्तान रोहित शर्मा ने भारतीय क्रिकेटरों को दिया ये खास संदेश

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned