कोरोना के कारण BCCI के ऑफिशियल स्कोरर के.के. तिवारी का निधन

तिवारी का पिछले कुछ समय से एम्स झज्जर में ईलाज चल रहा था और वे वेंटिलेटर पर थे। वहीं शनिवार सुबह वे जिंदगी की जंग हार गए और उनका निधन हो गया।

By: Mahendra Yadav

Published: 08 May 2021, 07:27 PM IST

भारत में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे है और आंकड़े डराने वाले हैं। देश में एक दिन में रोजाना लाखों लोग संक्रमित हो रहे हैं। वहीं मृतकों की संख्या भी बढ़ रही है। कई बड़े-बड़े दिग्गज इस कोरोना वायरस की वजह से काल का ग्रास बन गए। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के ऑफिशियल स्कोरर केके तिवारी का भी कोरोना की वजह से निधन हो गया। बताया जा रहा है कि तिवारी का पिछले कुछ समय से एम्स झज्जर में ईलाज चल रहा था और वे वेंटिलेटर पर थे। वहीं शनिवार सुबह वे कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए और उनका निधन हो गया। तिवारी के परिवार में पत्नी, दो बेटियां और एक बेटा है।

खेल अधिकारियों ने किया शोक व्यक्त
वहीं केके तिवारी के परिवार की बात करें तो उनकी पत्नी गृहणी हैं। बड़ी बेटी वकालत कर रही है। हालांकि अभी बेटी का वकालत का कॅरियर शुरुआती दौर में है। वहीं तिवारी की छोटी बेटी इंजीनियरिंग की तैयारी कर रही है। छोटा बेटा फिलहाल सातवीं कक्षा में पढ़ रहा है। तिवारी के निधन से खेल जगत में शोक की लहर है। दिल्ली के स्थानीय खेल अधिकारियों, दिल्ली खेल पत्रकार संघ और खेल पत्रकारों ने केके तिवारी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

यह भी पढ़ें— IPL 2021 बीच में ही स्थगित होने से BCCI को हो सकता है 2000 करोड़ रुपए से भी अधिक का नुकसान

37 लाख से अधिक कोरोना संक्रमित
बता दें कि देश में कोरोना की दूसरी लहर ने कहर बरपा रखा है। कोरोना की दूसरी लहर ने अब तक सभी पुराने रिकॉर्ड्स तोड़ दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, शुक्रवार को देशभर में कोरोना 4,01,228 नए मामले सामने आए। इसके बाद संक्रमण के कुल मामले 2,18,86,611 हो गए हैं।

यह भी पढ़ें— गुजरात के क्रिकेटर अर्जन ने बनाया अनोखा रिकॉर्ड, 46 साल में टीम इंडिया में शामिल होने वाले पहले पारसी क्रिकेटर

4194 लोगों की मौत
वहीं कोरोना से मरने वालों के आंकड़ों पर नजर डालें तो पिछले 24 घंटे में 4194 लोगों की मौत होने के बाद मृतकों की संख्या 2,38,268 हो गई है। वहीं कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या 37,21,779 हो गई है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 16.96 प्रतिशत है।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned