BCCI की चेतावनी, IJPL T-20 जैसी लीगों से दूर रहे क्रिकेटर नहीं तो होगी कारवाई

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों को सावधान करते हुए कहा कि वे अस्वीकृत टूर्नामेंटों से दूर रहे।

By:

Published: 09 Oct 2017, 02:38 PM IST

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों को सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि वे बीसीसीआई की स्वीकृति की बिना आयोजित होने वाले टूर्नामेंटों से दूर ही रहे। बीसीसीआई ने अपने एक बयान में कहा कि इंडियन जूनियर प्रीमियर लीग (आईजेपीएल) और जूनियर इंडियन प्लेयर लीग (जेआईपीएल) से संबंध रखने वाले क्रिकेटरों के खिलाफ सख्त कारवाई की जाएगी। बता दें कि आईजेपीएल टी-20 के नाम से एक अभ्यास शिविर दुबई में आयोजित किया गया था।

क्या कहा बीसीसीआई ने
बीसीसीआई ने अपने बयान में कहा कि हमें पता चला है कि आईजेपीएल और जेआईपीएल के नाम से कुछ टी-20 मैच, सीरीज, टूर्नामेंट या शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। हम साफ करना चाहते है कि आईजेपीएल और जेआईपीएल के नाम से होने वाली लीग को बीसीसीआई और आईपीएल न तो आयोजित कर रही है और न ही वे हमसे जुड़े हैं। हमने उन्हें कोई मान्यता भी नहीं दी है। बीसीसीआई में पंजीकृत कोई भी खिलाड़ी अगर आईजेपीएल और जेआईपीएल जैसे लीग में हमारी सहमति के बिना जुड़ता है, तो वह बीसीसीआई के नियमों की अवहेलना होगी। इस तरह की लीग का समर्थन करने वाले गौतम गंभीर , ऋषि धवन और पारस डोगरा जैसे खिलाड़ियों ने इससे अपना नाम वापस ले लिया है।

पैसा कमाने का जरिया बना लीग टूर्नामेंट
आईपीएल की सफलता के बाद कई खेलों में लीग टूर्ऩामेटों की शुरुआत की गई। बैडमिंटन, हॉकी, कबड्डी जैसे खेलों में शुरू हुए लीग टूर्नामेंटों ने अच्छा खासा कारोबार भी किया। खेलों के लीग अवतार ने कारोबारी जगत का ध्यान भी अपनी ओर खिचा। जिसके बाद कई कारोबारियों ने लीग टूर्नामेंटों में पैसा लगाना शुरू किया।

10 से 30 दिसंबर के बीच होना है आयोजन
इस टूर्नामेंट की शुरुआत 10 दिसंबर को होगा जो 30 दिसंबर तक चलेगा। इसमें 16 टीमें होंगी और इसका आयोजन मुम्बई में होगा। खिलाड़ियों के चयन शिविरों में तीन दिन तक प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित होगा और सभी खिलाड़ियों का खर्च लीग उठायेगी।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned