भारतीय महिला टेस्ट टीम की उपकप्तान हरमनप्रीत ने कहा-कोच पवार की कोचिंग शैली पहले की ही तरह है...

पवार को वर्ष 2018 विश्व कप सेमीफाइनल में भारतीय टीम के हारने के बाद कोच पद से हटा दिया गया था। पिछले दिनों ही उन्हें फिर से टीम का कोच नियुक्त किया गया है।

By: Mahendra Yadav

Published: 15 Jun 2021, 04:29 PM IST

भारतीय महिला क्रिकेट टेस्ट टीम इंग्लैंड दौरे पर है और यहां उसे इंग्लैंड टीम के साथ सीरीज खेलनी है। इस बीच भारतीय महिला टेस्ट टीम की उपकप्तान हरमनप्रीत कौर ने टीम के नए कोच पवार की कोचिंग को लेकर एक बयान दिया है। हरमनप्रीत का कहना है कि टीम के कोच रमेश पवार की कोचिंग शैली वैसी ही है जैसी 2018 में थी। भारतीय टीम के पूर्व ऑफ स्पिनर पवार हाल ही में इंग्लैंड दौरे को देखते हुए डब्ल्यूवी रमन के बदले मुख्य कोच बनाए गए थे। साथ ही हरमनप्रीत ने कहा,'वह वैसे ही हैं जैसे पिछली बार थे। पवार हमेशा खेल में लिप्त रहते हैं। वह चाहते हैं कि अन्य क्रिकेटर भी खेल में लिप्त रहें। जब आप उनसे बात करेंगे तो आपको महसूस होगा कि आप मैच खेल रहे हैं। वह हमेशा परिदृश्य बनाते हैं।'

बहुत जानकारी मिलती है
साथर ही हरमनप्रीत ने कहा, 'मुझे उनसे बात करके हमेशा बहुत जानकारी मिलती है। पवार ने काफी टी20 क्रिकेट खेला है। जो चीजें वह 2018 में सीखाते थे वही आज भी बताते हैं।' पवार को वर्ष 2018 विश्व कप सेमीफाइनल में भारतीय टीम के हारने के बाद कोच पद से हटा दिया गया था। हरमनप्रीत कौर ने कहा, 'सात साल में पहला टेस्ट खेलने की तैयारी कर रही भारतीय महिला क्रिकेट टीम मेजबान इंग्लैंड की मजबूत टीम का सामना करने के लिए मानसिक रूप से तैयार है।

यह भी पढ़ें— पाकिस्तानी क्रिकेटर सईद अजमल बोले-अश्विन को प्लानिंग के तहत कुछ समय क्रिकेट से दूर रखा गया

harmanpreet_singh2.png

सिर्फ दो टेस्ट खेले
इसके साथ ही हरमनप्रीत ने कहा कि उन्होंने लाल गेंद से ज्यादा क्रिकेट नहीं खेला है। हरमनप्रीत ने अभी तक सिर्फ दो टेस्ट खेले हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि उन्हें अंजिक्य रहाणे ने टिप्स दिए हैं, जिसके बाद वह अब टूर्नामेंट के लिए मानसिक रूप से तैयार है। साथ ही रहाणे के दिए टिप्स से समझ आया कि लंबे प्रारूप में कैसे बल्लेबाजी करनी है। भारत और इंग्लैंड की महिला क्रिकेट टीमों के बीच एकमात्र टेस्ट बुधवार से खेला जाएगा। इसके बाद भारतीय महिला क्रिकेट टीम ब्रिटेन के पूर्ण दौरे की शुरुआत करेगी। यहां टीम को 3 वनडे और 3 टी20 इंटरनेशनल मुकाबले भी खेलने हैं।

यह भी पढ़ें— 6 साल की बच्ची का बैटिंग टैलेंट देख आनंद महिन्द्रा हुए इंप्रेस, शेयर किया वीडियो

खुश होते हैं तो अच्छा क्रिकेट खेलते हैं
सीमित ओवरों के प्रारूप की हरमनप्रीत एक सफल बल्लेबाज हैं। उन्होंने कहा कि वह नेट पर भी सही मानसिकता के साथ उतरने का प्रयास करती हैं। उन्होंने कहा,'जब आप खुश होते हो तो आप अच्छा क्रिकेट खेलते हो। हम अपने मजबूत पक्षों के अनुसार खेलने का प्रयास करते हैं।’

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned