डेल स्टेन क्वारंटाइन में क्विंटन डिकॉक के साथ रहना करेंगे पसंद

CoronaVirus के खतरे कारण अगर Dale steyn को एकांतवास में रहना पड़ा तो वह अपनी टीम के कप्तान Quinton De Kock के पास रहना पसंद करेंगे।

Mazkoor Alam

20 Mar 2020, 12:33 PM IST

जोहॉन्सबर्ग : कोरोना वायरस (CoronaVirus) के कारण दुनिया भर के डॉक्टर लोगों को एकांतवास में रहने की सलाह दे रहे हैं। दुनियाभर में लोगों को सोशल डिस्टेंस बनाने को कहा जा रहा है। ऐसे समय में दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम (South Africa Cricket Team) के दिग्गज तेज गेंदबाज डेल स्टेन (Dale steyn) का बड़ा और रोचक बयान आया है। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें एकांतवास में रहना पड़ा तो वह अपनी टीम के कप्तान क्विंटन डिकॉक (Quinton De Kock) के साथ रहना पसंद करेंगे।

स्टेन ने डिकॉक के साथ रहने का रोचक कारण बताया

डेल स्टेन ने कहा कि डिकॉक एक अच्छे रसोइया हैं। उनके साथ रहने पर मछली पकड़ने के वीडियो देखने का मौका मिलेगा। स्टेन ने कहा कि विश्व उनके विश्व के पसंदीदा लोगों में से एक डिकॉक हैं। अगर आप उनके होटल के कमरे में जाएंगे तो पाएंगे कि वह या तो मछली पकड़ने की तैयारी में लगे हैं या फिर खाना बनाने का कोई वीडियो देख रहे होंगे। इतना ही नहीं, जब आप उनके घर पर जाएंगे, तब भी वह यही सब कर रहे होंगे।

मार्क बाउचर ने कोरोना वायरस से बचने के लिए दी अनोखी सलाह, टीममेट्स को फोन बंद करने को कहा

स्टेन को नहीं पसंद है खाना बनाना

दिग्गज तेज गेंदबाज ने बताया कि उन्हें खाना बनाना पसंद नहीं है और डिकॉक स्वादिष्ट खाना बनाना जानते हैं। ऐसे में यह उनके लिए अच्छा रहेगा। स्टेन ने कहा कि ऐसे में वह उन सभी मछलियां पकड़ने वाले वीडियो देख सकते हैं, जो डिकॉक देख रहे होंगे। इसके अलावा डिकॉक खाना भी बना सकते हैं।

एकांतवास में पुराने विश्व कप के मैचेज देखना करेंगे पसंद

स्टेन से जब यह पूछा गया कि वह ऐसे समय में किस मैच को देखना पसंद करेंगे तो उन्होंने किसी एक मैच का नाम नहीं लिया। उन्होंने कहा कि वह 1999 तक के सभी विश्व कप मैच देखना पसंद करेंगे। उन्हें 1992, 1996 और 1999 तक के सभी मैच पसंद हैं। स्टेन ने आगे कहा कि 2003 में दक्षिण अफ्रीका में खेला गया विश्व कप भी वह देख सकते हैं। 2003 तक वह ब्रेट ली जैसे गेंदबाजों को पसंद करने लगे थे, क्योंकि वह जानते थे कि वह इनके खिलाफ खेल सकते हैं और उन्हें जल्द ही राष्ट्रीय टीम में मौका मिल सकता है।

कोरोना का दंश : केन रिचर्डसन ने बताई उन 26 घंटे की कहानी, जब रहे अलग-थलग

कोरोना संकट से पूरा विश्व जूझ रहा है

बता दें कि इस समय पूरा विश्व कोरोना वायरस के खतरे से जूझ रहा है। अब तक दो लाख से भी ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं और 9,000 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है।

Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned