scriptहेड कोच बनने के बाद एक्शन में गौतम गंभीर, अब BCCI के सामने रखी ये मांग | gautam gambhir wants ryan ten doeschate in team india coaching staff | Patrika News
क्रिकेट

हेड कोच बनने के बाद एक्शन में गौतम गंभीर, अब BCCI के सामने रखी ये मांग

गौतम गंभीर टीम के सपोर्टिंग स्टाफ के रूप में नीदरलैंड के पूर्व क्रिकेटर रियान टेन डोइशे को शामिल करना चाहते हैं। हालांकि अब इस पर अंतिम फैसला बीसीसीआई को लेना है।

नई दिल्लीJul 11, 2024 / 12:49 pm

lokesh verma

Gautam Gambhir
टीम इंडिया को गौतम गंभीर के रूप में एक नया हेड कोच मिला है, लेकिन उनके सपोर्टिंग स्टाफ का चयन अभी बाकी है। इस बीच गंभीर ने बीसीसीआई के सामने एक मांग रखी है। क्रिकबज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, गौतम गंभीर टीम के सपोर्टिंग स्टाफ के रूप में नीदरलैंड के पूर्व क्रिकेटर रियान टेन डोइशे को शामिल करना चाहते हैं। गंभीर और ये डच खिलाड़ी पहले एक साथ केकेआर के लिए काम कर चुके हैं। केकेआर के साथ अपनी भूमिका के अलावा टेन डोइशे फ्रेंचाइज़ी की सहायक कंपनियों में कई पदों पर हैं, जिनमें कैरेबियन प्रीमियर लीग, मेजर लीग क्रिकेट और आईएलटी20 शामिल हैं।

अब फैसला बीसीसीआई के हाथ

बता दें कि गौतम गंभीर टीम के प्रबंधन में फ्री हैंड की डिमांड पहले ही कर चुके हैं। अब वह 44 वर्षीय डच को अपने प्रमुख सहयोगी के रूप में चाहते हैं। हालांकि इस पर अंतिम फैसला बीसीसीआई को लेना है। जिसने हाल ही में कोचिंग भूमिकाओं के लिए केवल भारतीय को नियुक्त करने की बात कही थी। इससे पहले रिपोर्ट में दावा किया गया था कि भारत के पूर्व ऑलराउंडर और केकेआर बैकरूम टीम का अभिन्न हिस्सा अभिषेक नायर सहायक कोच के तौर पर गंभीर की टीम से जुड़ सकते हैं।

टीम इंडिया में क्या भूमिका निभाएंगे टेन डोइशे?

टेन डोइशे को अगर चुना जाता है तो वह क्या भूमिका निभा सकते हैं, ये तय होना बाकी है। क्योंकि बीसीसीआई राहुल द्रविड़ की मौजूदा कोचिंग टीम के सदस्य टी दिलीप को फील्डिंग कोच के पद पर बनाए रखना चाहता है। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि अगर गौतम गंभीर ने सच में ऐसी कोई मांग बीसीसीआई के सामने रखी है, तो क्या बोर्ड उनकी यह मांग पूरी करेगा?
यह भी पढ़ें

गंभीर ने टी20 और वनडे के लिए चुने अलग-अलग कप्तान? जानें श्रीलंका दौरे पर किसे मिलेगी कमान

गंभीर हर मायने में नए लड़कों के साथ तालमेल बिठा सकते हैं

गंभीर पहले भी कई बार कह चुके हैं कि उनके दिमाग में सिर्फ जीत चलती है, जिसके लिए वो कुछ भी करने को तैयार हैं। गंभीर का रिकॉर्ड भी इसका गवाह है। यानी गंभीर जानते हैं कि बड़े मुकाबलों में कैसे सबसे दमदार प्रदर्शन करना होता है। टीम इंडिया पिछले 10 वर्षों में कई बार लड़खड़ाई। बात चाहे नई तकनीक और एडवांस क्रिकेट की हो, गंभीर हर मायने में नए लड़कों के साथ तालमेल बिठा सकते हैं। इसलिए गंभीर की कोचिंग में टीम इंडिया एक नया इतिहास रच सकता है।

Hindi News/ Sports / Cricket News / हेड कोच बनने के बाद एक्शन में गौतम गंभीर, अब BCCI के सामने रखी ये मांग

ट्रेंडिंग वीडियो