Chris Gayle बचपन में उठाते थे कचरा, गरीबी के कारण चोरी भी की और आज हैं Universe Boss

Universe Boss के नाम से मशहूर Chris Gayle T20 Cricket के शायद सबसे बड़े नाम हैं। लेकिन एक वक्त ऐसा भी था कि इनके पास खाने के लाले थे।

By: Mazkoor

Updated: 26 Jun 2020, 02:04 PM IST

नई दिल्ली : क्रिकेट जगत में यूं तो कई बल्लेबाज ऐसे हुए हैं, जिनका कोई सानी नहीं है। डॉन ब्रेडमैन (Don Bradman), गैरी सोबर्स (Gary Sobers), विवियन रिचर्ड्स (Vivian Richards), ब्रायन लारा (Brian Lara), सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar), सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) आदि जैसे दिग्गजों को देख चुके हैं। वर्तमान समय की बात करें तब भी स्टीव स्मिथ (Steve Smith) और विराट कोहली (Virat Kohli) जैसे दिग्गज बल्लेबाज का नाम शायद सबसे पहले आएगा। लेकिन अगर जब टी-20 क्रिकेट की बात हो तो शायद 'यूनिवर्स बॉस' (Universe Boss) के नाम से पहचाने जाने वाले क्रिस गेल (Chris Gayle) का नाम सबसे ऊपर आए।

बेहद गरीब परिवार से आते हैं गेल

क्रिस गेल जमैका के रहने वाले वाले हैं और मौजूदा समय में उनके पास सबकुछ है, लेकिन एक वक्त ऐसा था, उनके पास खाने तक के लाले थे। इसका खुलासा उन्होंने हाल ही में एक साक्षात्कार में किया। क्रिस गेल ने बताया कि उनका जन्म एक बेहद गरीब परिवार में हुआ था। वह एक कच्ची झोपड़ी में रहा करते थे। उनकी मां मूंगफली बेच कर परिवार चलाती थी। गरीबी के कारण वह कॉलेज का मुंह नहीं देख सके। 10वीं के बाद उन्हें पढ़ाई छोड़नी पड़ी। उनके माता-पिता के पास स्कूल फीस देने के लिए पैसे नहीं थे।

ICC की बैठक में Chairman के चुनाव की तारीख पर होगी बात, Shshank Manohar का कार्यकाल हो गया है पूरा

पेट पालने के कचरा बीना और चोरी की : गेल

क्रिस गेल ने बचपन का अपना किस्सा बयान करते हुए कहा कि उन्हें अपना पेट पालने के लिए सड़क पर कचरा तक बीनना पड़ा। वह प्लास्टिक की बोतलें उठाते थे और उन्हें बेच कर जो पैसे मिलते थे, उससे खाने का सामान लाते थे। इसी साक्षात्कार में वह यह बताते हुए रो पड़े कि पेट की आग शांत करने के लिए उन्हें चोरी करनी पड़ी। उन्होंने बताया कि एक बार जब उन्हें जोरों की भूख लगी और घर में खाने को कुछ नहीं था, तब उनके पास खाना खरीदने के लिए पैसे भी नहीं थे। ऐसे में पेट भरने के लिए चोरी तक करनी पड़ी।

क्रिकेट में न आया होता तो सड़कों पर कट रही होती जिंदगी

क्रिस गेल ने बताया कि अगर उन्होंने क्रिकेट का सहारा नहीं लिया होता तो शायद आज भी उनकी जिंदगी सड़कों पर ही कट रही होती। बता दें कि क्रिस गेल ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 1998/99 में डेब्यू किया और शानदार प्रदर्शन के बल पर अगले ही साल 1999 में वेस्टइंडीज की टीम में जगह बना ली थी और क्रिकेट की बदौलत मौजूदा समय में उनके पास किंग्सटन में एक आलीशान घर है। कई कारें हैं। इसके बावजूद वह अपने बचपन को नहीं भूल पाए हैं।

Bookie से संपर्क की जानकारी छिपाने पर लगा है क्रिकेटर पर प्रतिबंध, बोले- हल्के में लिया

दिल में है छेद

क्रिस गेल ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर के छह साल ही पूरे किए थे कि 2006 में उन्हें पता चला कि दिल में छेद है। इस खबर ने उन्हें हिलाकर रख दिया। इसके बाद उनके खेलने का अंदाज एकदम बदल गया। वह बेखौफ होकर बल्लेबाजी करने लगे और मौजूदा समय में टी-20 (T20 Cricket) के सबसे खतरनाक बल्लेबाज माने जाते हैं। वह इतने गगचुम्बी छक्के लगाते हैं कि उन्हें यूनिवर्स बॉस की उपाधि मिल गई।

ऐसा है गेल का करियर

क्रिस गेल टी-20 अंतरराष्ट्रीय (T20I) और लीग क्रिकेट को मिलाकर इस फॉर्मेट में 13 हजार से अधिक रन बनाए हैं और 22 शतक लगाए हैं। टी-20 क्रिकेट में उन्होंने 978 छक्के लगाए हैं। महज 20 ओवर के फॉर्मेट में यह रिकॉर्ड अविश्वसनीय लगता है। इसके अलावा उनका टेस्ट (Test cricket) और वनडे (Oneday Cricket) में भी उनका रिकॉर्ड शानदार है। उन्होंने 103 टेस्ट में 42 की ज्यादा औसत से 7,214 रन बनाए हैं। दौरान उन्होंने 15 शतक और 37 अर्धशतक लगाए हैं। वहीं वनडे में एक दोहरा शतक समेत 25 शतक की मदद से 10,480 रन बना चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने 54 अर्धशतक भी लगाए हैं।

Show More
Mazkoor Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned