Happy Birthday Chahal : क्रिकेट नहीं खेलते तब भी करते देश का नाम रोशन, Yuvraj ने दी अनोखे अंदाज में बधाई

साल 2016 में Team India के लिए डेब्यू करने वाले Yuzvendra Chahal टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत की ओर से एक पारी में छह विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज हैं।

By: Mazkoor

Updated: 23 Jul 2020, 05:44 PM IST

नई दिल्ली : टीम इंडिया के स्टार लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) गुरुवार 23 जुलाई को अपना 30वां जन्मदिन मना रहे हैं। हरियाणा में जन्में चहल अपनी चुहल के लिए भी जाने जाते हैं। मैच के बाद उनका खिलाड़ियों से अनोखे अंदाज में साक्षात्कार लेना हर क्रिकेटप्रेमियों को भाता है। इसी कारण उनका 'चहल टीवी' (Chahal Tv) प्रशंसकों में काफी लोकप्रिय है। इसके अलावा वह सोशल मीडिया पर भी काफी सक्रिय रहते हैं। मजेदार वीडियो और अपनी टिप्पणियों के जरिये वह साथी क्रिकेटरों और प्रशंसकों का मनोरंजन करते हैं।

युवी ने यूजी को यूं दी बधाई

चहल के जन्मदिन पर उनके प्रशंसकों और दोस्तों ने सोशल मीडिया पर बधाई दी। बधाई देने वालों में टीम इंडिया (Team India) के पूर्व स्टार हरफनमौला युवराज सिंह (Yuvraj Singh) भी शामिल थे। इस मौके पर बेहद अलग अंदाज में चहल को सालगिरह की बधाई दी। इसके साथ ही चहल को जन्मदिन पर भी छोड़ने से बाज नहीं आए और ट्रोल कर डाला। युवराज ने बधाई वाले ट्वीट में लिखा, 'यूजी चहल या मैं फिर तुम्हें मिस्टर चूहा कहूं। वजन बढ़ाने के लिए अलग से खास बधाई। अपने मजाकिया वीडियो और कमेंट से हमारा मनोरंजन करते रहें। दुआ करता हूं कि तुम्हारा साल अच्छा रहे, जन्मदिन की बधाई!' युवराज का यह ट्वीट काफी पसंद किया जा रहा है और देखते ही देखते वायरल हो गया है।

Shane Warne ने Sachin Tendulkar और Brian Lara के साथ शेयर की यादगार तस्वीर, जानें क्या कहा

टी-20 में है बड़ा रिकॉर्ड उनके नाम

2016 में टीम इंडिया के लिए डेब्यू करने वाले युजवेंद्र चहल टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में भारत की ओर से एक पारी में छह विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज हैं। वह अब तक 52 एकदिवसीय मैच में 91 विकेट ले चुके हैं, 42 टी-20 मैचों में 55 विकेट लिए हैं। चहल ने टी-20 में एक बार 5 विकेट लेने का भी कारनामा किया है। सीमिति ओवरों के क्रिकेट में इतना शानदार प्रदर्शन करने के बावजूद युवराज को अब तक टेस्ट खेलने का मौका नहीं मिला है।

शतरंज के हैं शानदार खिलाड़ी

बता दें कि युजवेंद्र चहल अगर क्रिकेट में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना नाम नहीं ऊंचा कर रहे होते तो वह शतरंज में कर रहे होते। वह शतरंज के बेहतरीन खिलाड़ी हैं। उन्होंने पिता के कहने पर शतरंज खेलना शुरू किया था और बेहद कम उम्र पर राष्ट्रीय स्तर के टूर्नामेंट्स में बेहतरीन प्रदर्शन कर इस खेल में उन्होंने अपनी छाप छोड़ी। हालांकि कुछ समय बाद उनका मन भर गया और उन्होंने पूरी तरह क्रिकेट को अपना लिया।

Jasprit Bumrah को Marnus Labuschagne ने माना खतरनाक, उनके सामने करना चाहते हैं बेहतर प्रदर्शन

शतरंज का क्रिकेट में मिला फायदा : चहल

एक बार चहल ने बताया था कि उन्हें शतरंज का फायदा क्रिकेट में भी मिला। इसी के कारण उन्हें रणनीति बनाने में मदद मिली और धैर्यवान रहना सीखा। चहल के मुताबिक, जब आप शतरंज खेलते हैं तो सामान्य तौर पर आप 15 से 16 चाल पहले ही सोच लेते हैं। इसी तरह जब दिग्गज बल्लेबाज के खिलाफ गेंदबाजी करते हैं तो योजना बनाने की जरूरत होती है। यह जानने की जरूरत होती है कि इस बल्लेबाज को अधिक गुगली फेंकनी हैं या फ्लिपर, ऐसी कौन सी गेंद है, जिसे वह समझ पा रहा है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned