कपिल देव के बाद दूसरे सबसे सफल पेसर रहे Zaheer Khan, 2011 विश्व कप में सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी की

Highlights

  • 7 अक्टूबर 1978 को जन्में जहीर ने वर्ष 2000 में भारतीय टीम में जगह बनाई।
  • 2011 विश्व कप में उनका शानदार प्रदर्शन रहा। उन्होंने नौ मैचों में 21 विकेट चटकाए।

By: Mohit Saxena

Updated: 07 Oct 2020, 06:20 PM IST

नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान ने बुधवार को अपना 42वां जन्मदिन मनाया। 7 अक्टूबर 1978 को जन्में जहीर ने सौरव गांगुली की कप्तानी में वर्ष 2000 में भारतीय टीम में जगह बनाई थी।

zaheer_khan3.jpg

जहीर खान ने अपने पूरे करियर में 309 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। इनमें से 92 टेस्ट मैच , 200 वन-डे मैच और 17 टी-20 मैच हैं। जहीर ने 309 अंतरराष्ट्रीय मैचों में कुल मिलाकर 610 विकेट अपने नाम किए हैं। टेस्ट में 311, वन-डे में 282 और टी-20 में 17 विकेट जाहिर खान ने लिए हैं।

2011 विश्व कप में उनका शानदार प्रदर्शन रहा। उन्होंने नौ मैचों में 21 विकेट चटकाए। वहीं जहीर 2008 में विस्डन क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुने गए। इंजीनियरिंग करने बाद क्रिकेटर बने जहीर की गेंदबाजी के आगे कई बल्लेबाज पस्त हो गए। जहीर बॉल को स्वींग करने में माहिर थे।

zahir_khan4.jpg

सबसे सफल पेसर

पूर्व कप्तान कपिल देव के बाद जहीर खान को सबसे सफल पेसर के रूप में जाना जाता है। जहीर ने अपने करियर की शुरूआत में गेंदबाजी के कई हुनर दिखाए। साल 2005-06 में उन्होंने नकल बॉल को क्रिकेट की दुनिया में परिचय कराया। जाहिर सर्वाधिक विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज हैं। उनसे अधिक पूर्व ऑलराउंडर कपिल देव ने सबसे अधिक विकेट हासिल किए।

जहीर खान के जन्मदिन के अवसर पर टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली, युवराज सिंह, वीरेंद्र सहवाग समेत कई खिलाड़ियों ने उन्हें बधाई संदेश दिए। आईसीसी और बीसीसीआई ने भी जहीर को जन्मदिन की बधाई दी है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned