बेटी की पढाई के लिए हसीन ने मांगे 2 लाख, शमी ने दिया ये जवाब

बेटी की पढाई के लिए हसीन ने मांगे 2 लाख, शमी ने दिया ये जवाब

Siddharth Rai | Updated: 25 Sep 2018, 01:53:21 PM (IST) क्रिकेट

खबरों के मुताबिक हसीन ने एक व्यक्ति भेज कर स्कूल में बेटी के दाखिले के लिए शमी से दो लाख रुपये मांगे थे। शमी को हसीन की यह हरकत नागवार गुजरी और उन्होंने रुपये देने से इन्कार कर दिया।

नई दिल्ली। एशिया कप से बाहर चल रहे टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की निजी जिन्दगी में चला आ रहा तूफ़ान थमा नहीं है। दिनोदिन उनकी मुश्किलें बढती जा रहीं हैं। पत्नी हसीन जहां से चल रहे विवाद में अभी कुछ दिन पहले उन्हें 20 सितंबर को कोलकाता के अलीपुर की सीजेएम कोर्ट में पेश होना था। मगर वह कोर्ट नहीं पहुंचे। जिसके चलते उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी होने वाला था। अब खबर आ रही हैं के दोनों पति पत्नी के झगड़े के चलते उनकी मासूम बेटी बेबो का भविष्य बर्बाद हो रहा है।

बेटी की फीस के लिए मांगे थे 2 लाख -
खबरों के मुताबिक हसीन ने एक व्यक्ति भेज कर स्कूल में बेटी के दाखिले के लिए शमी से दो लाख रुपये मांगे थे। शमी को हसीन की यह हरकत नागवार गुजरी और उन्होंने रुपये देने से इन्कार कर दिया। जिसके चलते उनकी बेटी बेबो का स्कूल में दाखिला नहीं हो सका है। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हसीन अपनी तीन साल की बेटी बेबो का दाखिला कोलकाता के एक स्कूल में कराना चाहती हैं। हाल ही में वह स्कूल गईं थी, जहां दाखिले के लिए दो लाख रुपये की आवश्यकता है। दाखिले के लिए जरूरी धनराशि मांगने के लिए उन्होंने शमी के ही क्रिकेट जगत में गुरु रहे सुमन चक्रवर्ती को चुना। लेकिन शमी ने उन्हें पैसे देने से इन्कार कर दिया। वहीं शमी का इस मामले में कहना है कि बेटी बेबो के लिए रुपये क्या अपनी जान तक दे सकते हैं। शमी इस बात से नाराज़ हैं के बेटी के दाखिले के लिए सीधी बात करने के बजाय किसी तीसरे को क्यों भेजा जा रहा है।

बेटी से मिलना चाहते हैं शमी -
शमी अपनी बेटी से मिलना चाहते हैं और इसका उन्हें पूरा अधिकार है लेकिन इसके बावजूद मिलना तो दूर उन्हें बेबो से फोन पर बात तक नहीं करने दी जा रही है। बता दें इस विवाद के चलते कोर्ट में केस चल रहा है। जिसकी सुनवाई 20 सितम्बर को थी लेकिन किसी कारण से शमी कोर्ट नहीं पहुंचे जिसके बाद कोर्ट ने उन्हें फटकार लगते हुए कोलकाता के अलीपुर कोर्ट ने 14 नवम्बर को व्यक्तिगत रूप से हाजिर होने के निर्देश दिए हैं। पत्नी हसीन जहां के मुताबिक कोर्ट में 20 सितम्बर को शमी के न पहुंचने पर नारजगी जताई थी। इसलिए उन पर अदालत की अवमानना की कार्यवाही भी हो सकती है। अगर वे इस बार पेश नहीं हुए तो। वहीं उधर शमी ने इस मामले में बताया कि उन्हें कोर्ट से कोई नोटिस जा जानकारी नहीं मिली। जिस कारण वे कोर्ट नहीं पहुंचे। फ़िलहाल अब आगे की कार्यवाही की जाएगी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned