इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप के बाद अपने पद से इस्तीफा देंगे ICC के मुख्य कार्यकारी रिचर्डसन

उनकी उपलब्धियां खुद बयां करती है। हाल के दिनों में खेलों के व्यापारिक सफलता में आईसीसी टीम के रूप में उनका मार्गदर्शन शानदार रहा है।

July, 0309:02 PM

नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के मुख्य कार्यकारी डेविड रिचर्डसन अगले साल इंग्लैंड एंड वेल्स में होने वाले विश्व कप के बाद अपने पद से इस्तीफा दे देंगे। आईसीसी ने मंगलवार को एक विज्ञप्ति में इसकी जानकारी दी। रिचर्डसन 2002 में आईसीसी के महाप्रबंधक (क्रिकेट) बने थे। इसके बाद वह 2012 में मुख्य कार्यकारी के रूप में प्रमोट हुए थे।

 

चेयरमैन ने किया धन्यवाद कहा मार्गदर्शन रहा शानदार
आईसीसी के चेयरमैन शशांक मनोहर ने कहा, "पिछले 16 वर्षों से, खासकर सीईओ के रूप में पिछले छह वर्षों से, क्रिकेट के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दिखाने के लिए, आईसीसी बोर्ड की ओर से मैं डेविड को धन्यवाद देना चाहता हूं। उनकी उपलब्धियां खुद बयां करती है। हाल के दिनों में खेलों के व्यापारिक सफलता में आईसीसी टीम के रूप में उनका मार्गदर्शन शानदार रहा है।"

 

रिचर्डसन ने आईसीसी के पुरे स्टॉफ मेंबर्स का किया धन्यवाद
रिचर्डसन ने कहा, "एक क्रिकेटर के रूप में सबसे कठिन काम यह जानना है कि आपके रिटायर होने का समय कब है। लेकिन मेरे लिए अगले वर्ष विश्व कप के बाद इसका अंत सही है। आईसीसी में मैंने पूरा आनंद लिया।" उन्होंने कहा, "मैं आईसीसी के चेयरमैन, बोर्ड के निदेशक और मुख्य कार्यकारी सदस्य का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं जिन्होंने मेरा साथ दिया। इसके अलावा मैं अपने सीनियरों और आईसीसी के पूरे स्टाफ को भी धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने खेलों के प्रति खुद को समर्पित किया।"

 


क्रिकेट की पिच पर रहा है धमाकेदार करियर
जोहानसबर्ग में जन्में 58 वर्षीय रिचर्डसन ने 42 टेस्ट और 122 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में दक्षिण अफ्रीका का प्रतिनिधित्व किया है । आईसीसी सीईओ नियुक्त किए जाने से पहले, डेव रिचर्डसन 1991-92 में अपनी पढ़ाई खत्म करने के बाद दक्षिण अफ़्रीकी क्रिकेट को बहुत कुछ दिया है । अपने शानदार करियर में रिचर्डसन ने 42 टेस्ट मैचों में 152 विकेट्स लिए थे और 152 फर्स्ट क्लास मैचों में 619 विकेट्स । बल्ले के साथ कुछ खास विस्फोटक तो नहीं थे पर उन्हें ज्यादा टिकाऊ बल्लेबाज माना जाता था ।उन्होंने 1,359 टेस्ट रन 24.2 9 के औसत से बनाये थे । 1 994-95 में न्यूजीलैंड के खिलाफ उनके दो सबसे बड़े स्कोर, 93 और 109 थे जो एक ही श्रृंखला में आए थे ।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned