कोटला हो सकता है बैन, आईसीसी फरवरी में करेगा दिल्ली के प्रदूषण की चर्चा

दिल्ली टेस्ट मैच के प्रदूषण के कारण चर्चा में रहने के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद कहा कि वह अगले साल फरवरी में इस पर चर्चा करेगी।

By: Kuldeep

Published: 09 Dec 2017, 09:54 AM IST

नई दिल्ली। हाल ही में देश की राजधानी दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर भारत और श्रीलंका के बीच खेले गए तीसरे टेस्ट मैच के प्रदूषण के कारण चर्चा में रहने के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने शुक्रवार को कहा कि वह अगले साल फरवरी में इस पर चर्चा करेगी।

श्रीलंका ने प्रदूषण की शिकायत की
श्रीलंका के खिलाड़ियों ने दो से छह दिसंबर के बीच खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में खतरनाक प्रदूषण की शिकायत की थी और मैच में फील्डिंग के दौरान मास्क भी पहने थे। आईसीसी के प्रवक्ता ने आईएएनएस से कहा, "दिल्ली में जिस स्थिति में मैच हुआ आईसीसी ने उस पर संज्ञान लिया है। साथ ही भविष्य में इस तरह की स्थिति आने पर क्या किया जाए इस पर मेडिकल समिति से सुझाव मांगा है। इस मुद्दे पर अगले साल फरवरी में होने वाली आईसीसी की बैठक में चर्चा होगी।"

भविष्य में टेस्ट मैचों की मेजबानी छीन सकती है
अगर आईसीसी की मेडिकल समिति की रिपोर्ट में बताया जाता है कि दिल्ली में प्रदूषण का स्तर खतरनाक था तो कोटला स्टेडियम से भविष्य में टेस्ट मैचों की मेजबानी छीन सकती है। टेस्ट मैच में भारत और श्रीलंका दोनों टीमों के गेंदबाजों को परेशानी हुई थी। श्रीलंकाई गेंदबाज सुरंगा लकमल ने मैदान पर उल्टी की थी तो भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने भी मैदान पर उल्टी की थी। श्रीलंका टीम के अंतिरम कोच निक पोथास ने इस मुद्दे को जोर-शोर से उठाया था और कहा था कि उनके ड्रेसिंग रूम में ऑक्सिजन सिलेंडर का इस्तेमाल हुआ है।

मास्क पहन कर की फील्डिंग
मैच के दौरान श्रीलंका के कप्तान चंडीमल सहित 6 अन्य खिलाड़ी मैदान में मास्क पहन कर उतरे थे। खिलाड़ियों की हालत इतनी ख़राब हो गई थी के एक समय पर श्रीलंका 10 खिलाड़ियों के साथ फील्डिंग कर रहा था और कप्तान चंडीमल ने अंपायर से ये तक कह दिया के क्या हम अपने सपोर्ट स्टाफ से फील्डिंग करा सकते है क्योंकी पवेलियन में और कोई खिलाड़ी बचा नहीं है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned