scriptIND vs ENG: रोहित या बुमराह नहीं, ये है टीम इंडिया का सबसे खतरनाक हथियार, बैकअप बनकर गया था वर्ल्ड कप खेलने | ind vs eng semifinal highlights axar patel outstanding performance in t20 world cup 2024 | Patrika News
क्रिकेट

IND vs ENG: रोहित या बुमराह नहीं, ये है टीम इंडिया का सबसे खतरनाक हथियार, बैकअप बनकर गया था वर्ल्ड कप खेलने

IND vs ENG T20 World Cup 2024 Highlights: आईसीसी मेंस टी20 वर्ल्ड कप 2024 के लिए भारतीय टीम में जिस खिलाड़ी को बैकअप के तौर में चुना गया था, वह अकेले विरोधियों पर कहर बनकर टूट रहा है।

नई दिल्लीJun 28, 2024 / 05:10 pm

Vivek Kumar Singh

IND vs SA
T20 World Cup 2024 Final: आईसीसी मेंस टी20 वर्ल्ड कप 2024 के फाइनल में भारतीय टीम का सामना साउथ अफ्रीका (IND vs SA T20 World Cup 2024 Final) से होगा। दोनों टीमें पहली बार किसी वर्ल्ड कप के फाइनल में आमने सामने होंगी। दोनों टीमें टी20 वर्ल्ड कप के इतिहास में 6 बार आमने सामने हुई हैं और 4 बार टीम इंडिया को जीत मिली है। इस बार भारतीय टीम फाइनल में हराकर साउथ अफ्रीका के खिलाफ अपना दबदबा कायम रखना चाहेगी। इस जीत का दावा इसलिए ठोका जा रहा है क्योंकि टीम इंडिया के सबसे बड़े स्टार के अब तक फ्लॉप रहने के बावजूद मेन इन ब्ल्यू अब तक नहीं हारी है।

Axar Patel बने भारत के सबसे खतरनाक हथियार

इस न हारने की सबसे बड़ी वजह से टीम इंडिया के गेंदबाजों का दमदार प्रदर्शन। इस दौरान अक्षर पटेल तो अलग ही तेवर में नजर आए हैं। जब भारतीय टीम का वर्ल्ड कप 2024 के लिए सेलेक्शन हुआ था तब अक्षर पटेल को बैकअप का खिलाड़ी माना जा रहा था लेकिन पहले मुकाबले से उन्होंने अपनी उपयोगिता साबित की है और न सिर्फ गेंद से बल्कि बल्ले से भी योगदान दिया है और विरोधियों पर जब भी मौका मिला है कहर बनकर टूटे हैं। इंग्लैंड के खिलाफ भी अक्षर पूरे 22 खिलाड़ियों में अलग साबित हुए और टीम को एकतरफा जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई।
तीन विकेट लेकर प्लेयर ऑफ द मैच बने भारतीय ऑलराउंडर अक्षर पटेल ने कहा कि उन्होंने बिना कुछ अलग किए चीजों को सरल रखा। दूसरे सेमीफाइनल में अक्षर पटेल ने मैच जिताऊ गेंदबाजी की। अक्षर के साथ कुलदीप ने तीन-तीन विकेट लेकर इंग्लैंड की पारी को तहस-नहस कर दिया। अक्षर पटेल ने इस मैच में पहली गेंद से छाप छोड़ा और पूरे मैच में छाए रहे। उन्होंने अपनी पहली ही गेंद पर कप्तान जोस बटलर को पवेलियन भेजा और फिर बाद में जॉनी बेयरस्टो और मोईन अली का भी शिकार किया।

मैच के बाद Axar Patel ने क्या कहा

अक्षर ने मैच के बाद कहा, “मैंने पहली ही गेंद पर विकेट लेने की कोई रणनीति नहीं बनाई थी, बस मेरा ध्यान सही लेंथ पर गेंदबाज़ी करना और बल्लेबाजों पर दबाव बनाना था। जब आप नॉकआउट खेलते हैं तो चाहते हैं कि आपकी शुरुआत अच्छी हो और आप अपने स्पेल को ख़त्म भी सही ढंग से करें। पावरप्ले में गेंदबाज़ी करना कठिन होता है, लेकिन जब आपको विकेट से मदद मिल रही हो तो आप बस चीजों को सिंपल रखना चाहते हैं। मैंने भी वही किया और इससे मुझे मदद मिली। पारी के ब्रेक के दौरान हमने इस पर चर्चा की थी कि यह विकेट बल्लेबाज़ी के लिए आसान नहीं है और मुझे यह भी पता था कि वे मुझ पर आक्रमण करने जाएंगे।”

अक्षर के नाम अब तक 8 विकेट

अक्षर ने आगे कहा, “लेकिन मुझे यह भी पता था कि चूंकि गेंद बल्ले पर अच्छे से नहीं आ रही है, इसलिए मुझ पर बैकफ़ुट से या फिर सीधा मारना आसान नहीं होगा। मेरी योजना थी कि मैं उनके लिए शॉट खेलना और भी कठिन बनाऊं और उन्हें कुछ अलग शॉट खेलने के लिए मज़बूर करूं। पहली गेंद पर ऐसा ही हुआ।” ऑलराउंडर ने कहा कि उन्हें पूरा भरोसा था भारत इस लक्ष्य का बचाव कर लेगा और उन्होंने धीमे विकेट पर रोहित की बल्लेबाजी की प्रशंसा की। अक्षर पटेल ने इस वर्ल्ड कप के 7 मैचों में 8 विकेट हासिल किए हैं और ये उनके सभी विकेट काफी जरूरी समय पर आए हैं।

Hindi News/ Sports / Cricket News / IND vs ENG: रोहित या बुमराह नहीं, ये है टीम इंडिया का सबसे खतरनाक हथियार, बैकअप बनकर गया था वर्ल्ड कप खेलने

ट्रेंडिंग वीडियो